Chris Gayle: कचरा उठाता था यह क्रिकेटर, आज है दुनिया का सबसे खतरनाक बल्लेबाज

 

Chris Gayle: कचरा उठाता था यह क्रिकेटर, आज है दुनिया का सबसे खतरनाक बल्लेबाज

वेस्टइंडीज के क्रिकेटर क्रिस्टोफर हेनरी गेल आज अपना जन्मदिन मना रहे हैं। क्रिस गेल का जन्म 21 सितंबर 1979 को किंगस्टोन जमैका में हुआ था। क्रिस गेल को आप सभी ने हमेशा हंसते-मुस्कुराते देखा होगा, लेकिन इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए क्रिस गेल ने काफी संघर्ष किया है. क्या आप जानते हैं? पहले क्रिस गेल का परिवार एक झोपड़ी में रहता था और क्रिस गेल बहुत गरीब होने के कारण अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते थे।

क्रिस गेल अपने परिवार का पेट पालने के लिए कचरा इकट्ठा करते थे। एक बार एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा है कि कभी-कभी जब उनके पास खाने को कुछ नहीं होता तो उन्हें चोरी करनी पड़ती थी। क्रिस गेल के करियर की बात करें तो उनके क्रिकेट करियर की शुरुआत लुक्का क्रिकेट क्लब से हुई थी। क्रिस गेल उस समय अंडर-19 में पहली बार खेले और बाद में 1999 में भारत के खिलाफ अपना पहला वनडे मैच खेला। इसके बाद उन्होंने 2006 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना पहला टी20 खेला। हालांकि, क्रिस गेल विवादों से भी जुड़े रहे हैं। .



क्रिस गेल पर 2006 में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच के दौरान क्रिकेट की भावना के विपरीत व्यवहार करने का आरोप लगाया गया था, हालांकि बाद में यह पाया गया कि वह दोषी नहीं थे। उन्होंने 2007 में अपनी इंग्लैंड यात्रा के दौरान वेस्ट इंडीज क्रिकेट बोर्ड की सार्वजनिक रूप से आलोचना की, जिसके कारण उन्हें आधिकारिक फटकार और चेतावनी दी गई। हालांकि क्रिस गेल टेस्ट क्रिकेट में पहली ही गेंद पर छक्का लगाने वाले इकलौते बल्लेबाज हैं। उन्होंने यह छक्का बांग्लादेश के खिलाफ लगाया था। क्रिस गेल ने कहा कि 333 नंबर उनके लिए बेहद लकी है इसलिए वह 333 नंबर की जर्सी पहनते हैं। फिलहाल हमारी तरफ से क्रिस गेल को जन्मदिन की बधाई।