सचिन की बड़ी पहल, 55 आदिवासी बच्चों ने पहली बार स्टेडियम में देखा मैच

 
vv

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर ने सोमवार को मध्य प्रदेश के इंदौर में अपने अंदाज से सभी का दिल जीत लिया। सीहोर जिले के 55 आदिवासी बच्चे भी मैच देखने पहुंचे। जी हां, सोमवार को इंदौर के होल्कर स्टेडियम में इंडिया लीजेंड्स और न्यूजीलैंड लीजेंड्स के बीच रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 मैच देखने के लिए बच्चों को आमंत्रित किया गया था और इस दौरान सभी को देखकर क्रिकेटर्स काफी खुश हुए.



दरअसल यह न्योता चैरिटेबल संस्था सचिन तेंदुलकर फाउंडेशन (एसटीएफ) की पहल पर दिया गया है. आपको बता दें कि प्रतियोगिता के आयोजकों की ओर से जारी विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई। विज्ञप्ति के अनुसार, '55 आदिवासी बच्चे अपने जीवन में पहली बार किसी स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेट मैच देखने आए थे।' हालांकि, बारिश के कारण मैच रद्द कर दिया गया था। आपको बता दें कि इंडिया लीजेंड्स के कप्तान के रूप में मैच खेलने के लिए होलकर स्टेडियम के मैदान में उतरने से पहले सचिन तेंदुलकर ने इन बच्चों से बातचीत की और उनके साथ जीवन के कुछ सिद्धांतों पर चर्चा की।



इस दौरान सचिन तेंदुलकर ने बच्चों से कहा, ''जीवन चुनौतियों से भरा है, लेकिन जो जीवन में सभी चुनौतियों का समाधान ढूंढता है वही असली विजेता होता है.'' विनायक लोहानी का परिवार द्राज़ के कुछ इलाकों में आदिवासी बच्चों की बेहतरी के लिए फाउंडेशन के साथ मिलकर काम कर रहा है.

आपको बता दें कि इंडिया लीजेंड्स की टीम पॉइंट टेबल में तीसरे नंबर पर मौजूद है. वहीं, सचिन की अगुवाई वाली टीम तीन मैचों में सिर्फ एक ही जीत पाई है, जबकि दो मैच रद्द हो चुके हैं। इंडिया लीजेंड्स के 4 अंक हैं। जबकि श्रीलंका लीजेंड्स की टीम तीन मैचों में तीन जीत दर्ज कर 6 अंकों के साथ शीर्ष पर बनी हुई है। 3 मैचों में दो जीत के बाद दूसरे स्थान पर वेस्ट इंडीज लीजेंड्स 5 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर बना हुआ है।