IPL 2022: ऐसी है पॉइंट्स टेबल! प्लेऑफ की रेस में मचा बवाल, कोलकाता के कमाल से हैदराबाद बेहाल।

 
Srh
एक बार फिर IPL सीजन में प्लेऑफ (IPL 2022 Play-Off) की रेस आखिरी दिन तक जाती हुई दिख रही है. एक वक्त रेस में आगे रही टीमें अब पिछड़ती जा रही हैं, जबकि टूर्नामेंट में बने रहने के लिए संघर्ष कर रही टीमें किसी तरह अपनी उम्मीदों को जिंदा रखे हुए है। 12 मैचों में 10 पॉइंट्स के साथ उतरी कोलकाता के लिए यहां जीतना बेहद जरूरी था और ऐसे में उसके सबसे बड़े स्टार आंद्रे रसेल ने अपना कमाल दिखाते हुए अकेले दम पर टीम की जीत पक्की की. रसेल ने पहले सिर्फ 28 गेंदों में नाबाद 49 रन ठोककर टीम को मुश्किल से उबारते हुए 177 रनों तक पहुंचाया. फिर हैदराबाद के 3 विकेट लेकर सिर्फ 123 रनों पर रोकने में अहम भूमिका निभाई। कोलकाता के लिए इस मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने के साथ ही वह सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी रहे।
Srh
कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) इस मामले में सबसे आगे है. लगातार दूसरे मैच में श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली टीम ने जीत हासिल करते हुए बाहर होने के खतरे को टाल दिया. शनिवार 14 मई को कोलकाता ने सनराइजर्स हैदराबाद को 54 रनों के बड़े अंतर से हराया और पॉइंट्स टेबल (IPL Points Table) में बड़ी छलांग लगाते हुए छठा स्थान हासिल कर लिया।
* पॉइंट्स टेबल में मचा बवाल :
राजस्थान और बैंगलोर के 14-14 पॉइंट्स हैं, लेकिन राजस्थान के पास दो, जबकि बैंगलोर के पास सिर्फ एक मैच है. वहीं दिल्ली और कोलकाता के बराबर 12 पॉइंट्स हैं, लेकिन दिल्ली के पास दो मैच बाकी हैं. पंजाब किंग्स के पास भी दो मैच बाकी हैं और उसके भी 12 पॉइंट्स हैं. इस नतीजे के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, दिल्ली कैपिटल्स, पंजाब किंग्स और राजस्थान रॉयल्स पर भी दबाव बढ़ गया है. इनमें से कुछ टीमें आपस में ही खेलेंगी और ऐसे में उन मैचों के नतीजों से प्लेऑफ की तस्वीर तय होगी।
* KKR ने मारी उछाल
इस बड़ी जीत के साथ ही कोलकाता के 113 मैचों से 12 पॉइंट्स हो गए हैं और वह अभी भी रेस में बनी हुई है. जीत से मिले 2 पॉइंट्स के अलावा कोलकाता ने नेट रनरेट में भी जबरदस्त सुधार किया और इसके फलस्वरूप टीम छठे स्थान पर पहुंच गई है. इससे पहले तक हैदराबाद सातवें स्थान पर थी, जो अब लुढ़ककर आठवें स्थान पर पहुंच गई है. उसके 12 मैचों में 10 पॉइंट्स ही हैं और लगातार पांचवीं हार के साथ टीम का NRR और भी बिगड़ गया है. हैदराबाद को अब अपनी उम्मीदें जिंदा रखने के लिए आखिरी दो मैचों में हर हाल में जीत हासिल करनी होगी।