IPL 2022: दिल्ली को जिताकर वॉर्नर ने SRH से मिले जख्मों को सूद समेत लौटाया, पुरानी टीम पर कही ये बात!

 
Dc
दिल्ली कैपिटल्स और सनराइजर्स हैदराबाद (DC vs SRH) के मैच से पहले और मैच के दौरान सबसे ज्यादा फोकस एक खिलाड़ी पर था- डेविड वॉर्नर (David Warner). ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के इस दिग्गज बल्लेबाज का आईपीएल में भी उतना ही रुतबा है. 2016 में अपनी कप्तानी में हैदराबाद को आईपीएल चैंपियन बनाने वाले वॉर्नर के नाम इस फ्रेंचाइजी के लिए सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड भी है. इसके बावजूद पिछले सीजन में टीम की असफलता के बाद न सिर्फ उन्हें कप्तानी से हटाया गया बल्कि एक सीजन की खराब फॉर्म के बाद टीम से भी ड्रॉप कर दिया गया. उनके साथ बुरे बर्ताव की खबरें भी आईं और फिर सीजन खत्म होने के बाद दोनों का रिश्ता खत्म हो गया. अब आईपीएल 2022 में वॉर्नर उसी टीम के साथ हैं, जहां से उनका आईपीएल में सफर शुरू हुआ था और उनके अंदाज भी पुराने वाले हैं। 
Dc
पिछले 13 साल में वॉर्नर ने रिकॉर्ड्स की बरसात के अलावा फैंस का मनोजरंन किया है. सनराइजर्स हैदराबाद (Sunrisers Hyderabad) से बढ़कर इस बात को कौन समझ सकता है. इसी टीम के साथ वॉर्नर ने आईपीएल में बुलंदियां छुईं और साथ ही टीम को भी शीर्ष तक पहुंचाया. फिर भी सिर्फ एक सीजन की नाकामी ने दोनों के बीच ऐसी दूरियां बढ़ाईं, कि राहें जुदा हो गईं और जिस तरह से उसका अंत हुआ, उसने वॉर्नर समेत SRH के फैंस को भी निराश किया. अब वॉर्नर ने हैदराबाद से मिले जख्म का हिसाब बराबर कर लिया है और जोर का झटका भी दिया है।
* अपने पुराने अंदाज में लौटे वॉर्नर :
दिल्ली कैपिटल्स में आने के साथ ही वॉर्नर फिर से पुराने रंग में दिख रहे हैं. वॉर्नर उन कुछ बल्लेबाजों में से हैं, जो लगभग हर सीजन में 500-600 से ज्यादा रन बनाते रहे हैं. वॉर्नर ने 2014 से 2020 तक हर सीजन में लगातार 500 से ज्यादा रन बनाए. सिर्फ 2021 में वह 195 रन ही बना सके, लेकिन अब फिर से वॉर्नर का वही रूप दिख रहा है. दिग्गज ओपनर ने अभी तक सिर्फ 8 पारियों में ही 356 रन बना दिए हैं, जिसमें 4 अर्धशतक शामिल हैं और करीब 157 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी कर रहे हैं. ऐसे में फिर से 500 से ज्यादा रन बनते दिख रहे हैं।
Dc
* SRH के खिलाफ प्रदर्शन पर बोले वॉर्नर :
वॉर्नर ने जिस अंदाज से हैदराबाद के लिए कई सीजन तक बल्लेबाजी की, उसका ही शिकार अब हैदराबाद को बनाया. ब्रेबॉर्न स्टेडियम में SRH के खिलाफ वॉर्नर ने सिर्फ 54 गेंदों में नाबाद 92 रन ठोक टीम की जीत की बुनियाद तैयार की. इतना ही नहीं, दिल्ली की जीत के बाद वॉर्नर ने हैदराबाद से बिगड़े रिश्तों को लेकर पूछे सवाल पर भी जवाब दिया और कहा, मुझे (SRH के खिलाफ) किसी अतिरिक्त प्रेरणा की जरूरत नहीं थी. हम सबने देखा कि अतीत में क्या हुआ था. टीम के लिए जीत हासिल करना काफी अच्छा रहा।