IND vs PAK: सात की जगह पंद्रह रन भी चाहिए होते तो में तैयार था- Hardik Pandya

 
h

हार्दिक पांड्या ने मोहम्‍मद नवाज की गेंद पर छक्‍का लगाकर टीम इंडिया को दुबई इंटरनेशनल स्‍टेडियम में पाकिस्‍तान के खिलाफ जीत दिलाई। एक वक्‍त पर टीम इंडिया के लिए यह मैच फंसता नजर आ रहा था। हार्दिक ने मुश्किल वक्‍त पर संयम भरी पारी खेली और बीच-बीच में बड़े शॉट लगाने से भी वो नहीं चूके। हार्दिक ने मैच के बाद कहा अगर आखिरी ओवर में सात की जगह 15 रन की भी दरकार होती तो भी वो उसके लिए खुद को तैयार कर लेते। 

पांड्या ने कहा,‘‘हमें अंतिम ओवर में जीत के लिए केवल सात रन की दरकार थी लेकिन अगर हमें 15 रन भी चाहिए होते तो मैं उसके लिए खुद को तैयार रखता। मैं जानता था कि 20वें में ओवर में मेरी तुलना में गेंदबाज पर अधिक दबाव था. मैंने चीजों को सरल बनाए रखा। 

हार्दिक पांड्या ने कहा,‘‘ गेंदबाजी में परिस्थितियों का आकलन करना और उसके अनुसार गेंदबाजी करना महत्वपूर्ण होता है। गेंदबाजी में मेरा मजबूत पक्ष शॉर्ट पिच गेंदबाजी और सही लेंथ पर गेंदबाजी करना है। यह इनका अच्छी तरह से उपयोग करना और बल्लेबाज को गलतियां करने के लिए मजबूर करने से जुड़ा है।’’