Mumbai के खिलाफ आईपीएल प्लेऑफ स्थान सुनिश्चित करना चाहेगी गुजरात टाइटन्स

 
vv

मुंबई। अंक तालिका में शीर्ष पर चल रही गुजरात टाइटन्स शुक्रवार को यहां इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मैच में पहले ही दौड़ से बाहर हो चुकी मुंबई इंडियंस के खिलाफ अपने शीर्ष क्रम की कमियों को दूर करने और जीत की लय में वापसी करके प्लेऑफ स्थान सुनिश्चित करने की कोशिश करेगी। गुजरात टाइटन्स को पिछले मैच में पंजाब किग्स से आठ विकेट से हार का सामना करना पड़ा जिससे उसकी पांच मैचों की जीत की लय टूट गयी।


अभी तक पूरे टूर्नामेंट के दौरान बल्लेबाजी विभाग में अनिरंतरता विशेषकर शीर्ष क्रम में, उसके लिये परेशानी का सबब रही है और अब समय आ गया है कि आईपीएल की नयी टीम को लीग के अंत की ओर इस खामी को सुधारना होगा। हार के बावजूद गुजरात टाइटन्स 10 टीमों की तालिका में 10 मैचों में 16 अंक लेकर शीर्ष पर काबिज है और शुक्रवार को जीत से वह प्लेऑफ में स्थान पक्का करने वाली पहली टीम बन जायेगी।


युवा शुभमन गिल शीर्ष क्रम में उम्मीदों पर खरा उतरने में विफल रहे हैं जबकि मैथ्यू वेड की जगह उतारे गये अनुभवी ऋद्धिमान साहा ने अच्छी शुरुआत की लेकिन इसे जारी नहीं रख सके। टीम के लिये अभी तक कमजोर कड़ी रहने वाले बी साई सुदर्शन ने पिछले मैच में 50 गेंद में 65 रन की पारी खेलकर टीम को बचाया, जिसमें हर कोई असफल रहा था।
कप्तान हार्दिक पंड्या, डेविड मिलर, राहुल तेवतिया और राशिद खान भी पंजाब के खिलाफ नहीं चल सके। राशिद ने शानदार प्रदर्शन किया है और अभी तक गुजरात टाइटन्स की सफलता में अहम भूमिका अदा की है।


लेकिन यह चौकड़ी इस बात से भली भांति वाकिफ है कि वे टीम के लिये कितने अहम हैं। इसलिये ये चारों शानदार प्रदर्शन से टीम को वापसी कराना चाहेंगे। हार्दिक गुजरात टाइटन्स की बल्लेबाजी का स्तंभ रहे हैं जिन्होंने टीम में सर्वाधिक 309 रन जुटाये हैं लेकिन वह लगातार दो मैचों में असफल रहे इसलिये वह बड़ी पारी खेलने के लिये बेताब होंगे।
मिलर तथा छक्के जड़ने के महारथी तेवतिया और राशिद भी विफलता के बाद खुद को साबित करने के लिये बेकरार होंगे।


मोहम्मद शमी, लॉकी फर्ग्यूसन, अल्जारी जोसफ और राशिद की मौजूदगी से गुजरात टाइटन्स के पास इस साल के आईपीएल में सबसे खतरनाक आक्रमण मौजूद हैं।
पिछले मैच में रन लुटाने के बावजूद शमी ने नयी गेंद से बेहतरीन प्रदर्शन किया है जबकि फर्ग्यूसन की अतिरिक्त तेजी हासिल करने की काबिलियत किसी भी बल्लेबाजी क्रम के लिये चिता का विषय होगी। राशिद भी गेंदबाजी में काफी किफायती रहे हैं लेकिन विकेट झटकने में ज्यादा सफल नहीं रहे हैं जो टीम के लिये चिता का विषय होगा।


वहीं दूसरी ओर मुंबई इंडियंस की बात की जाये तो वह तालिका में अंतिम स्थान पर है और लगातार आठ हार के बाद पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी है। लेकिन रोहित शर्मा की अगुआई वाली टीम ने राजस्थान रॉयल्स पर पांच विकेट की जीत दर्ज करके राहत की सांस ली होगी जो टूर्नामेंट में उसकी पहली जीत थी। सूर्यकुमार यादव बल्लेबाजी विभाग में मुंबई के स्टार रहे हैं, वर्ना बल्लेबाजी इकाई में एकजुटता की कमी दिखी है।


रोहित और ईशान की टूर्नामेंट में खराब फॉर्म जारी है जबकि कीरोन पोलार्ड अब तक सत्र में अपनी 'फिनिशर’ की भूमिका से न्याय नहीं कर पाये हैं। गेंदबाजी विभाग में मुंबई की टीम अपने सर्वश्रेष्ठ के करीब नहीं दिखती। जसप्रीत बुमराह भले ही किफायती रहे हों लेकिन विकेट नहीं झटक सके हैं जो टीम के लिये सबसे ज्यादा कष्टकारी रहा है। डेनियल सैम्स और रिले मेरेडिथ ने बीच बीच में अच्छा प्रदर्शन किया है और बुमराह को छोड़कर मुंबई के पास कोई भरोसेमंद गेंदबाज नहीं है। लेकिन अब मुंबई इंडियंस बचे हुए मैचों में दूसरी टीमों के समीकरण बिगाड़ने की कोशिश करेगी।


टीम इस प्रकार हैं :
गुजरात टाइटन्स :
अभिनव मनोहर, डेविड मिलर, गुरकीरत सिह, बी साई सुदर्शन, शुभमन गिल, हार्दिक पंड्या (कप्तान), राहुल तेवतिया, विजय शंकर, मैथ्यू वेड, रहमानुल्ला गुरबाज, ऋद्धिमान साहा, अल्जारी जोसेफ, दर्शन नालकांडे, डोमिनिक ड्रेक्स, जयंत यादव, लॉकी फर्ग्यूसन, मोहम्मद शमी, नूर अहमद, प्रदीप सांगवान, राशिद खान, रवि श्रीनिवासन साई किशोर, वरुण आरोन, यश दयाल।
मुंबई इंडियन्स:
रोहित शर्मा (कप्तान), अनमोलप्रीत सिह, राहुल बुद्धि, रमनदीप सिह, सूर्यकुमार यादव, तिलक वर्मा, टिम डेविड, अर्जुन तेंदुलकर, बासिल थम्पी, ऋतिक शौकीन, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, मयंक मार्कंडे, मुरुगन अश्विन, रिले मेरेडिथ, टाइमल मिल्स, अरशद खान, डेनियल सैम्स, डेवाल्ड ब्रेविस, फैबियन एलन, कीरोन पोलार्ड, संजय यादव, आर्यन जुयाल और इशान किशन।