एक फरवरी को किसानों ने किया संसद मार्च का ऐलान, बोले- मोदी सरकार से है लड़ाई

Tuesday, 26 Jan 2021 08:43:50 AM

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सरकार किसान और कृषि दोनों के हितों के प्रति प्रतिबद्ध है. PM मोदी के नेतृत्व में विगत 6 वर्षों में किसान की आमदनी बढ़ाने, खेती को नई तकनीक से जुड़ने के लिए अनेक प्रकार की योजनाएं और प्रयास किए गए हैं. MSP को डेढ़ गुना करने का काम भी PM के नेतृत्व में हुआ. कृषि मंत्री ने कहा कि किसान को उसके उत्पादन का सही दाम मिल सके, किसान महंगी फसलों की ओर आकर्षित हो सके इसलिए जहां कानून बनाने की आवश्यकता थी वहां कानून बनाए गए और जहां कानून में बदलाव की आवश्यकता थी वहां कानून में बदलाव भी किए गए. इसके पीछे सरकार और प्रधानमंत्री की साफ नीयत हैं.

37 शर्तों के साथ दिल्ली पुलिस ने दी NOC

ट्रैक्टर परेड के लिए दिल्ली पुलिस ने 37 शर्तों के साथ NOC दे दी है. तय रूट पर ट्रैक्टर परेड की इजाजत होगी. भड़काऊ भाषण और हथियार की मनाही है. परेड के लिए दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक का समय तय किया गया है.

गृहमंत्री अमित शाह के घर बैठक जारी

ट्रैक्टर परेड से पहले किसान संगठनों ने फिर बड़ा ऐलान किया है. किसान एक फरवरी को संसद मार्च करेंगे. इस दिन आम बजट पेश होना है. किसान नेता दर्शन पाल ने कहा कि हमारी लड़ाई मोदी सरकार से है. कल 9 जगह से किसान गणतंत्र परेड निकलेगा, जो भी परेड होगा वो शांतिपूर्ण तरीके से होगा और इससे देश की गणतंत्र की इज्जत बढ़ेगी. ट्रैक्टर परेड को लेकर गृहमंत्री अमित शाह के आवास पर उच्च स्तरीय बैठक जारी है. इस बैठक में गृह सचिव, दिल्ली पुलिस कमिश्नर, IB चीफ, दोनों गृह राज्य मंत्री शामिल हैं. बता दें कि दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने संजय गांधी ट्रांसपोर्ट और सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया था, जिसकी जानकारी वो बैठक में गृहमंत्री को देंगे.

इन रास्तों पर जाने से बचें

दिल्ली की संयुक्त पुलिस उपायुक्त मीनू चौधरी ने कहा है कि दिल्ली में बाहर से आने वाले लोग NH-44, जीटी रोड, संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर, बादली मेट्रो स्टेशन, बादली बवाना रोड, बवाना चौक पर जाने से बचें.