मानव तस्करी और वेश्यावृत्ति के आरोप में सोनू पंजाबन को 24 साल की जेल

Thursday, 23 Jul 2020 12:51:23 PM

नई दिल्ली: गीता अरोड़ा उर्फ ​​सोनू पंजाबन को अदालत ने 24 साल कैद की सजा सुनाई है। बताया जा रहा है कि सोनू पंजाबन को दिल्ली के द्वारका कोर्ट में अपहरण, मानव तस्करी और वेश्यावृत्ति का दोषी पाया गया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश प्रीतम सिंह ने सोनू पंजाबन के सहयोगी संदीप को 20 साल की कैद की सजा सुनाई।

सोनू पंजाबन और उसके सहयोगी संदीप को नाबालिग लड़की के अपहरण, बलात्कार और वेश्यावृत्ति के मामले में दोषी ठहराया गया था। पुलिस के मुताबिक, मामला सितंबर 2009 का है। बताया जा रहा है कि पीड़ित लड़की सोनू पंजाबन के सहयोगी संदीप के प्रेम संबंधों में फंस गई थी। वह उसे लक्ष्मीनगर के एक घर में ले गया और उसके साथ बलात्कार किया। रेप के बाद संदीप ने पीड़ित लड़की को सीमा मौसी के नाम से जानी जाने वाली महिला को बेच दिया। पीड़ित लड़की केवल 12 साल की थी। सीमा आंटी ने लड़की को वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया। पुलिस ने बताया कि सीमा लड़की को नशीला इंजेक्शन देती थी।



सीमा आंटी ने पीड़ित लड़की को सोनू पंजाबन को बेच दिया। सोनू पंजाबन ने वेश्यावृत्ति के लिए उसका इस्तेमाल किया। खबर के अनुसार, सोनू ग्राहकों को भेजने से पहले लड़की को स्पैस्मो प्रोक्सीवन और अल्प्रैक्स सहित अन्य ड्रग्स देता था। लड़की ने 9 फरवरी 2014 को नजफगढ़ पुलिस स्टेशन की पुलिस से शिकायत की।