loading...

स्मृति ईरानी जी अब फतेहपुर में उन्नाव दोहराया गया है, कहां हैं आप !

Monday, 16 Dec 2019 11:08:52 AM

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

loading...

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के रेप इन इंडिया बयान को तोड़-मरोड़ कर संसद में पेश करने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानई और भाजपा की दूसरी वीरांगनाएं खामोश हैं. वे तब भी चुप रहीं थीं जब उनकी ही पार्टी के विधायक रहे कुलदीप सेंगर ने उन्नाव में एक लड़की के साथ बलात्कार किया था. वे तब भी चुप रहीं थीं जब स्वामी चिन्मयानंद पर बलात्कार के आरोप लगे थे. कठुआ में बलात्कार के आरोपियों के तिरंगा यात्रा निकालने पर भी वे संसद में नहीं गरजीं थीं और न ही महिला आत्म-सम्मान की दुहाई दी थी. उनकी पार्टी के ही सांसद एमजे अकबर पर मीटू अभियान के तहत बलात्कार का आरोप लगा था और पत्रकारों ने स्मृति ईरानी को घेरा था तब उन्होंने शुद्ध अंग्रेजी में कहा था कि इसका जवाब एमजे अकबर ही दे सकते हैं.

हैदराबाद, उन्नाव, बक्सर और सीतामढ़ी में बेटियों के साथ बलात्कार हुआ. उन्हें जला कर मार डाला गया लेकिन स्मृति ईरानी या दूसरी भाजपा की महिला सांसदों ने आवाज नहीं उठाई. लेकिन राहुल गांधी के बयान पर सदन में जिस तरह की नौटंकी स्मृति ईरानी ने की और राहुल गांधी के बयान को गलत तरीके से पेश किया वह अपने आप में शर्मिदा करने के लिए काफी है. स्मृति ईरानी के झूठ पर कांग्रेस ने पलटवार करते हुए नरेंद्र मोदी के रेप कैपिटल वाले भाषण को सार्वजनिक कर भाजपा को भी आईना दिखाया और स्मृति ईरानी को भी.

Third party image reference

स्मृति ईरानी के संसद में दिए बयान पर तो बाकायदा कई हैशटैग के साथ ट्विटर पर उन्हें ट्रोल किया गया और सवाल पूछे गए. लेकिन सवालों का जवाब नहीं मिलना था, नहीं मिला. लेकिन उन सवालों के बीच ही शनिवार को उत्तर प्रदेश में उन्नाव दोहराया गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के राज में एक और लड़की का पहले बलात्कार किया गया फिर उसे जिंदा जला दिया गया. यह एक और उन्नाव था. जगह का नाम बदल दें, घटना उसी तरह की है. फतेहपुर जिले में हुसेनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में उन्नाव कांड दोहराया गया. यहां दोपहर में अठारह साल की लड़की के साथ उसके रिश्ते के चाचा ने घर में घुसकर पहले बलात्कार किया, फिर केरोसिन तेल छिड़ककर उसे जिंदा जला दिया.

नब्बे फीसद जल चुकी लड़की को कानपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. लड़की की हालत गंभीर है और उसके बचने की उम्मीद कम ही है. फतेहपुर के नगर पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) कपिल देव मिश्रा ने बताया कि हुसेनगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में लड़की अपने घर में अकेली थी. परिवार के अन्य सदस्य खेतों में काम कर रहे थे. उसी समय उसके रिश्ते के 22 वर्षीय चाचा ने घर में घुसकर लड़की से बलात्कार किया और लड़की के शिकायत करने की बात पर नाराज होकर उसके ऊपर केरोसिन का तेल छिड़क कर आग लगा दी.

Third party image reference

मिश्रा ने अब तक की जांच निष्कर्ष का हवाला देकर बताया कि पीड़िता और आरोपी युवक के बीच प्रेम प्रसंग होने की जानकारी मिली है. दोनों पक्षों के बीच शुक्रवार को पंचायत होने की बात भी सामने आई है, जिसमें दोनों पक्षों के बीच शादी के लिए सहमति बनी. उन्होंने कहा कि इतना सब होने के बाद बलात्कार कर पीड़िता को जलाए जाने की घटना समझ से परे है. बहरहाल यूपी में बलात्कार की बढ़ती घटनाओं ने सरकार की साख तो गिराई ही है. विपक्ष हमलावर है. बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ नारे का भी खूब मजाक बन रहा है. शनिवार को ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यूपी में थे और बलात्कार व जिंदा जलाने की इस घटना ने दिल दहला दिया.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि आज प्रधानमंत्री यूपी में थे. आशा है कि महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था और यूपी में महिलाओं के खिलाफ हो रहे जघन्य अपराधों पर अपना मौनव्रत तोड़ देंगे. उप्र की भाजपा सरकार तो बेशर्म हो चुकी है. कानून व्यवस्था उसके बस के बाहर की बात है. हालांकि प्रधानमंत्री ने अब तक अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी है. यूपी में एक बेटी के साथ घटी इस घटना पर स्मृति ईरानी भी चुप हैं. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


loading...