loading...

नागरिकता संशोधन बिल पर भड़क उठीं पाकिस्तानी मंत्री जरताज गुल, बोली मोदी सरकार...

Friday, 13 Dec 2019 01:51:04 PM

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

loading...

भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने नागरिकता संशोधन बिल को लोकसभा में पेश कर दिया। सोमवार को बिल पेश किया गया और सरकार इस बिल को लोकसभा में पास करवाने में कामयाब भी हो गई। हालांकि इस बिल का विपक्ष ने जोरदारा विरोध किया। कांग्रेस से लेकर तृणमूल कांग्रेस और ओवैसी ने इस बिल का विरोध किया। वहीं अब पाकिस्तान से भी बिल के विरोध में बयान आ गया है। पाकिस्तानी मंत्री जरताज गुल वजीर इस बिल पर भड़क उठी है और बड़ा बयान दे दिया है।

Google Image

लोकसभा में पक्ष में पड़े 311 वोट

लोकसभा में बिल पेश किया गया तो इसके पक्ष में 311 वोट पड़े। वहीं विरोध में 80 वोट पड़े जिसके बाद ये बिल पास हो गया। बिल के पास होते ही पीएम नरेंद्र मोदी ने खुशी जाहिर की। हालांकि अब राज्यसभा से भी इस बिल को पास करवाना चुनौती होगी क्योंकि भाजपा सरकार के पास राज्यसभा में बहुमत नहीं है। ये बिल राज्यसभा में बुधवार को पेश होगा।

ओवैसी से लेकर कांग्रेस तक ने किया विरोध

इस बिल के विरोध में विपक्षी लामबंद हो गए। सांसद असदुद्दीन ओवैसी हों या कांग्रेस के शशि थरूर, सभी ने इस बिल का विरोध किया। ममता बनर्जी ने तो इस बिल को सांप्रदायिक करार दे दिया। वहीं मायावती से लेकर अखिलेश यादव भी इस बिल के विरोध में दिखे। हालांकि तमाम विरोध के बाद भी नागरिकता संशोधन बिल पास हो गया।

Google Image

जानें क्या बोलीं पाक मंत्री जरताज गुल

नागरकिता संशोधन बिल पर पाकिस्तान की मंत्री जरताज गुल वजीर भी भड़क उठी। पाक मंत्री ने इस बिल का विरोध करते हुए कहा कि हम इस बिल की निंदा करते हैं। मंत्री ने कहा कि ये बिल मानवाधिकार मानदंडों के अनुरूप नहीं है। जरताज गुल वजीर बोली कि मोदी सरकार का ये बिल साबित करता है कि भारत में धर्मनिरपेक्षता नहीं है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


loading...