Crime News : सीमा पार तस्करों की मदद करने पर बीएसएफ अधिकारी गिरफ्तार

Wednesday, 03 Mar 2021 01:42:55 PM

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने सीमा पार तस्करी के मुद्दे पर एक बड़ी जांच की घोषणा की है। तस्करों की मदद करने के आरोपी एनआईए ने सीमा सुरक्षा बलों के सहायक उप निरीक्षक को हिरासत में ले लिया है। यह जांच जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में की गई है। यह पता चला है कि इन तस्करों के तार लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े हैं। हालांकि, इससे पहले, तस्करों की सहायता करने के आरोप के तहत सुरक्षा प्रणाली से जुड़े एक व्यक्ति को हिरासत में लिया गया है।

जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में बीएसएफ के सहायक उप निरीक्षक रोमेश कुमार पर एनआईए ने शिकंजा कस दिया है। उसे आतंकवादियों की मदद करने के आरोप में जनवरी 2020 के बाद दूसरी बार हिरासत में लिया गया है। एनआईए ने कुमार के घर पर भी छापा मारा है। वहीं, एनआईए ने इससे पहले पुलिस उपाधीक्षक देवेंद्र सिंह को भी गिरफ्तार किया है। उस पर हिज्बुल के आतंकियों की मदद करने का आरोप था।



रिपोर्ट्स के मुताबिक, विशेषज्ञों का कहना है कि बारामूला और हंडिया क्षेत्र में तस्करों की जांच के लिए एनसीबी में प्रतिनियुक्ति तैनात की गई है। आरोप है कि इस बीच उसने अपने आतंकवादी समूहों से जुड़े ड्रग तस्करों के साथ काम करना शुरू कर दिया। खास बात यह है कि नशा तस्करी के आरोपों के दौरान एनसीबी ने कुमार के बीएसएफ को वापस भेज दिया था।

यह भी कहा जा रहा है कि कुमार को सोमवार को लंबी पूछताछ के बाद हिरासत में लिया गया था। उसे मंगलवार को जम्मू की विशेष अदालत में पेश किया गया है। कुमार को यहां से दो सप्ताह के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, गोपनीयता के आधार पर, एक अधिकारी ने बताया कि चार कथित नशा तस्करों ने पूछताछ के दौरान कुमार का नाम लिया था। राजधानी दिल्ली में बीएसएफ के प्रवक्ता ने कहा कि इस बंदी के संबंध में अधिक जानकारी जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आपराधिक मामलों में गिरफ्तार किसी भी अधिकारी को निलंबित कर दिया जाएगा।