'कोरोना' का बड़ा तोड़ सामने आया, वैज्ञानिक भी चौंक गए

Wednesday, 25 Mar 2020 08:17:04 PM

नई दिल्ली: जब पूरी दुनिया को कोरोवायरस महामारी से लड़ने के लिए टीके और दवाओं का इंतजार है। बचाव का एक तरीका सबसे लोकप्रिय हो रहा है। दुनिया भर के डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने यह मानना ​​शुरू कर दिया है कि कोरोनोवायरस संक्रमण से निपटने के लिए गर्म पानी और साबुन से ज्यादा प्रभावी कुछ भी नहीं है। वैज्ञानिकों का कहना है कि वायरस को मारने में गर्म पानी और साबुन का मिश्रण सबसे प्रभावी है।



राममनोहर लोहिया अस्पताल के मेडिसिन विभाग के पूर्व प्रमुख डॉ। मोहसिन वली का कहना है कि कोरोनावायरस 30 डिग्री से ऊपर के तापमान में मारा जाता है। यही कारण है कि अब दुनिया भर के वैज्ञानिक और डॉक्टर इस वायरस से संक्रमण से खुद को बचाने के लिए गर्म पानी और साबुन का उपयोग कर रहे हैं। इस संयोजन का उपयोग आपके शरीर से वायरस को हटाने के लिए भी किया जा सकता है।

संयुक्त राज्य अमेरिका में पिट्सबर्ग अस्पताल में शिशु संक्रमण विभाग के प्रमुख डॉ। जॉन विलियम्स ने बताया है कि गर्म पानी में साबुन अधिक झाग पैदा करता है। किसी भी प्रकार का वायरस गर्म पानी में घुल जाता है और बाहर निकल जाता है या नष्ट हो जाता है। अधिकांश वैज्ञानिक इन दिनों ठंडे पानी के बजाय गर्म पानी से हाथ धोने को प्राथमिकता दे रहे हैं।