बच्चो को स्कूल भेजने से पहले जरूर जान ले ये सरकार के नियम !

Monday, 29 Jun 2020 02:48:20 PM

नई दिल्ली। दुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 1 करोड़ और इससे संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या पांच लाख के पार चली गई है. अमरीका में 25 लाख 10 हज़ार से ज़्यादा लोग इस वायरस से संक्रमित हैं। भारत में कोरोना वायरस की वजह से पिछले करीब चार महीने से स्कूल-कॉलेज बंद हैं. सरकार ने 16 मार्च से ही देश के सभी शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया था. इसके बाद से ही पेरेंट्स से लेकर स्टूडेंट्स तक के मन में यही सवाल है कि आखिर स्कूल-कॉलेेज दोबारा खोलने को लेकर सरकार क्या फैसला लेती है।


हालांकि मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने संकेत दिए हैं कि 15 अगस्त के बाद स्कूल खोले जा सकते हैं, लेकिन इसे लेकर कोई पुष्टि नहीं हुई है. इन सबके बीच आंध्र प्रदेश में स्कूल खोलने की योजना तैयार कर ली गई है। रिपोर्ट के अनुसार, आंध्र प्रदेश सरकार ने अगस्त के अंत तक स्कूल खोलने की योजना बनाई है. इसके तहत राज्य के एजुकेशन मिनिस्टर ए. सुरेश ने बताया कि प्रदेश में अगस्त के अंत तक स्कूल (School) खोलने की योजना है और इस दिशा में सरकारी स्कूलों में रिनोवेशन का काम कराने के लिए एक प्रोेजेक्ट भी शुरू किया गया है. इसके तहत करीब 45 हजार सरकारी स्कूलों को कॉरपोरेट स्कूलों के समकक्ष बनाने की कोशिश की जा रही है.


खबरों के अनुसार आपको बता दे की आंध्र प्रदेश के एजुकेशन मिनिस्टर ए. सुरेश के अनुसार, सरकारी स्कूलों के रिनोवेशन में हमारी योजना 3700 करोड़ रुपये खर्च करने की है. इसके तहत बिजली, टॉयलेट, पीने का पानी, फर्नीचर में बदलाव जैसी चीजें की जाएंगी. हमने एक तिहाई काम पूरा कर लिया है. सुरेश ने साथ ही बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए हम आनलाइन एजुकेशन की ओर भी बढ़े हैं और जब एक बार फिर से स्कूल खुल जाएंगे तो निश्चित रूप से छात्रछात्राओं को बढ़िया माहौल मिलेगा.

loading...