दशहरे पर जरूर करें ये काम, घर में सुख-शांति के साथ बनी रहेगी बरकत

Sunday, 25 Oct 2020 05:49:02 PM

लाइफस्टाइल। दशहरा या विजयादशमी का त्योहार हर साल अश्विन मास की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस साल दशहरा 25 अक्टूबर (रविवार) को मनाया जा रहा है। विजयादशमी के दिन शुभ मुहूर्त में शस्त्र पूजा की भी परंपरा है। विजयादशमी को ज्योतिषाचार्यों में अबूझ मुहूर्त बताया है। हालांकि इस साल 26 अक्टूबर (सोमवार) को सुबह 11 बजकर 30 मिनट तक दशमी तिथि होने से इस दिन मूर्ति विसर्जन किया जा सकेगा।

ज्योतिषों के अनुसार, रावण दहन के बाद बची हुई लकड़ियों को घर में लाकर किसी सुरक्षित स्थान पर रख देना चाहिए। इससे घर में नकारात्मक शक्ति प्रवेश नहीं करती। साथ ही घर पर कोई भी तंत्र-मंत्र काम नहीं करता है। दशहरे पर मीठे दही के साथ शमी के पेड़ की अपराजिता मंत्रों सेपूजा करें। इससे घर पर देवी-देवताओं की कृपा बनी रहेगी और आपको सफलता व उन्नति भी मिलेगी। लंका दहन के बाद किसी गरीब को गुप्त दान दें। साथ ही नई झाड़ू को मंदिर में किसी ऐसी जगह रख दें, जहां उसे कोई देख ना सके। इससे धन संबंधी सभी परेशानियां दूर होगी।


रावण दहन से पहले घर के उत्तर-पूर्व में कुमकुम, चंदन और लाल फूल से अष्टदल कमल की तस्वीर बनाएं और पूजा करें। फिर इनकी पूजा के बाद शमी के पेड़ की पूजा करके उसकी थोड़ी मिट्टी तिजोरी या पूजा स्थल पर रख दें। मान्यता है कि ऐसा करने से घर में हमेशा सुख व समृद्धि बनी रहती है। शाम के समय शमी के पेड़ की पूजा करके उसके पास देसी घी का दिया जलाएं। ऐसा करना आपके लिए शुभ रहेगा। माना जाता है कि इससे कोर्ट-कचहरी के काम में सफलता मिलती है।