'फिंगर प्रिक' के माध्यम से कोरोना टेस्ट की तैयारी, परिणाम सिर्फ 20 मिनट में आएगा

Tuesday, 21 Jul 2020 01:08:40 PM

लंदन: यूके सरकार सफल गुप्त परीक्षणों के बाद लाखों नि: शुल्क कोरोनावायरस एंटीबॉडी परीक्षण करने की योजना बना रही है। इस परीक्षण में, उंगली में सुई चुभाने के तुरंत बाद फिंगर प्रिक का अर्थ है, परिणाम सामने आते हैं। ब्रिटिश अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, यह घरेलू परीक्षण नैदानिक ​​कंपनियों के सहयोग से ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की एक टीम द्वारा विकसित किया गया है।

यह परीक्षण 20 मिनट में बता सकता है कि कोई व्यक्ति कोरोनोवायरस से संक्रमित है या नहीं। जून में किए गए एक मानव परीक्षण में इसके परिणाम 98.6% सही पाए गए थे। ब्रिटेन सरकार के एंटीबॉडी टेस्ट कार्यक्रम का नेतृत्व करने वाले ऑक्सफोर्ड के प्रोफेसर सर जॉन बेल ने कहा, "यह रैपिड टेस्ट वास्तव में आश्चर्यजनक है और बड़ी बात यह है कि हम यह टेस्ट खुद से कर सकते हैं।"



अखबार ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि, "अब तक, यूके में केवल एंटीबॉडी परीक्षण के उपयोग को मंजूरी दी गई है, जहां रक्त के नमूनों को परीक्षण के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाता है, जिसमें कई दिन लगते हैं। अब ब्रिटेन के हजारों प्रोटोटाइप (नमूने) हैं। भारत में नए फिंगरप्रिंट तैयार किए गए हैं। उम्मीद है कि आने वाले हफ्तों में उन्हें नियामक मंजूरी मिल जाएगी।