नेपाल में राजनीतिक उथल-पुथल शुरू, पीएम केपी ओली के इस्तीफे की मांग तेज

Saturday, 27 Jun 2020 08:31:48 AM

काठमांडू: पाल में सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी आंतरिक विवादों में फंसती नजर आ रही है। पार्टी के भीतर ही विद्रोह देखा जाता है। पीएम केपी शर्मा ओली के इस्तीफे की मांग तेज हो गई है। पुष्प कमल दहल 'प्रचंड' सबसे आगे हैं जिन्होंने कहा है कि पीएम ओली हर मोर्चे पर विफल रहे हैं, इसलिए उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। प्रचंड कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुख भी हैं।

प्रचंड ने पीएम ओली के इस्तीफा नहीं देने पर पार्टी को विभाजित करने की भी धमकी दी है। उन्होंने कहा कि उन्हें ओली के साथ पार्टी की एकता पर पछतावा है और यह एकता उनकी सबसे बड़ी राजनीतिक भूल थी। प्रचंड को पार्टी के दो पूर्व पीएम का भी समर्थन हासिल है। माधव नेपाल और झलनाथ खनाल भी ओली के इस्तीफे के पक्ष में हैं। ओली सचिवालय और नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की स्थायी समिति दोनों में अल्पमत में हैं। अब वे पद बचाने के लिए मंत्रिमंडल में बदलाव के लिए तैयार हैं।



नेपाल की मुख्य विपक्षी पार्टी नेपाली कांग्रेस के सांसदों ने प्रतिनिधि सभा में एक प्रस्ताव दायर कर सरकार से कब्ज़े वाली ज़मीन वापस करने और संसद को कब्ज़े वाली ज़मीन की स्थिति के बारे में बताने को कहा है। नेपाली कांग्रेस के सांसद देवेंद्र राज कांडेल, सत्यनारायण शर्मा खनाल और संजय कुमार गौतम ने संयुक्त रूप से बुधवार को प्रतिनिधि सभा सचिवालय में एक प्रस्ताव दायर किया है। भारत के साथ भी नेपाल का सीमा विवाद चल रहा है।

loading...