टूलकिट केस में पाकिस्तान की भी हुई एंट्री, जम्मू-कश्मीर से जोड़ मोदी-RSS पर साधा निशाना

Monday, 15 Feb 2021 09:50:19 PM

किसान आंदोलन को लेकर ग्रेटा थनबर्ग की ओर से शेयर की गई टूलकिट को तैयार करने के आरोप में दिशा रवि को अरेस्ट किया गया है। अब इस मामले पर पड़ोसी देश पाकिस्तान की भी एंट्री हुई है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ ने इस मामले में भारत सरकार पर निशाना साधा है। पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक खबर को शेयर करते हुए लिखा है कि भारत सरकार अपने खिलाफ उठने वाली सभी आवाजों को शाांत कर रही है। सीधे तौर पर मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए इमरान की पार्टी ने लिखा है, ''मोदी और आरएसएस के नेतृत्व में भारत में उन सभी आवाजों को शांत किया जा रहा है, जो सरकार के खिलाफ हैं।''

तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने लिखा है, ''विरोधियों को उसी तर्ज पर शांत किया जा रहा है, जैसा जम्मू-कश्मीर में किया गया था। क्रिकेटर्स और फिल्म स्टार्स का इस्तेमाल कर नैरेटिव तैयार करना शर्मनाक है। लेकिन अब उन्होंने ट्विटर टूलकिट केस में दिशा रवि को भी अरेस्ट कर लिया है।'' इसके साथ ही इमरान की पार्टी ने #IndiaHijackTwitter का भी इस्तेमाल किया है। बता दें कि दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने दिशा रवि को बेंगलुरु से अरेस्ट किया है और अदालत ने 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। दिशा रवि पर निकिता जैकब और शांतनु के साथ मिलकर उस टूलकिट को शेयर करने का आरोप है, जिसे ग्रेटा थनबर्ग ने शेयर किया था।

पुलिस का कहना है कि ग्रेटा थनबर्ग ने जब उस डॉक्युमेंट को गलती से शेयर किया था तो दिशा रवि ने ही उन्हें बताया था कि उन्होंने गलती कर दी है। बता दें कि पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया है कि इस संबंध में गूगल से भी उसे कई अहम जानकारियां हासिल हुई हैं। पुलिस के मुताबिक निकिता जैकब के घर पर ही टूल किट को तैयार किया गया था। इसे शांतनु की ओर से बनाई मेल आईडी के जरिए क्रिएट किया गया था। इसके अलावा दिशा रवि ने उस वॉट्सऐप अकाउंट को भी डिलीट कर दिया है, जिसे टूलकिट को वायरल करने के लिए बनाया गया था।