UNHRC में पाकिस्तान की एक और हार, किसी भी देश ने कश्मीर मुद्दे पर उसका समर्थन नहीं किया

Friday, 20 Sep 2019 02:43:16 PM

जिनेवा: पाकिस्तान को जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर अंतरराष्ट्रीय मंच पर एक और कूटनीतिक हार मिली है। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) के अधिकांश सदस्य देशों ने भी यूरोपीय संघ द्वारा पैरवी किए जाने के बाद पाकिस्तान का समर्थन करने से इनकार कर दिया है। UNHRC में, पाकिस्तान जम्मू और कश्मीर मुद्दे पर एक प्रस्ताव पेश करना चाहता था, लेकिन वह इसके लिए पर्याप्त समर्थन हासिल करने में विफल रहा।

इसके साथ ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कश्मीर मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय मुद्दा बनाने की मंशा को पुनर्जीवित कर दिया गया है। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, पाकिस्तान निर्धारित समय सीमा के भीतर आवश्यक सदस्यों के समर्थन का पत्र UNHRC को प्रस्तुत नहीं कर सका। UNHRC के अधिकांश सदस्य देशों ने जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर प्रस्ताव पेश करने के पाकिस्तान के प्रस्ताव का समर्थन करने से साफ इनकार कर दिया। इसके कारण पाकिस्तान की योजनाएं चरमरा जाती हैं।

समाचार एजेंसी के मुताबिक, संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भारत की पहली सचिव कुमम मिनी देवी ने कहा, "जम्मू और कश्मीर भारत का संप्रभु और आंतरिक मुद्दा है।" पाकिस्तान गलत इरादे से सीमा का गलत इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहा है। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में अत्याचारों की सीमा पार कर ली गई है। बलात्कार और हत्या जैसी घटनाओं को हिरासत में लेकर चलाया जा रहा है। कार्यकर्ताओं और पत्रकारों के मानवाधिकार उल्लंघन आम हैं।

loading...