भारत, रूस और चीन अपनी वायु गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखते हैं, हम रखते हैं: डोनाल्ड ट्रम्प

Friday, 31 Jul 2020 01:57:00 PM

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत, चीन और रूस पर वायु गुणवत्ता को लेकर गंभीर आरोप लगाए हैं। राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा है कि ये देश वायु गुणवत्ता का ध्यान नहीं रख रहे हैं, जबकि अमेरिका रखता है। राष्ट्रपति ट्रम्प ने पेरिस जलवायु समझौते को "एकतरफा, ऊर्जा-बर्बादी" के रूप में वर्णित किया है। ट्रंप ने आगे कहा कि वह इस सौदे से पीछे हट गए हैं, जो अमेरिका को 'गैर-प्रतिस्पर्धी राष्ट्र' बनाता है।

ट्रम्प ने चीन पर हमला करते हुए कहा है कि वह चाहता है कि हम अपनी हवा का ध्यान रखें, लेकिन चीन खुद अपनी हवा का ध्यान नहीं रखता है। भारत और रूस भी अपनी वायु गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखते हैं लेकिन हम करते हैं। ट्रंप ने आगे कहा कि जब तक वह राष्ट्रपति हैं, वह हमेशा अमेरिका को पहले स्थान पर रखेंगे। यह बहुत सरल है। राष्ट्रपति ट्रम्प ने आगे कहा, "कई सालों तक हमने पहले अन्य देशों को रखा और अब हम अमेरिका को आगे रखेंगे। जैसा कि हमने अपने शहरों में देखा, कट्टरपंथी डेमोक्रेट न केवल टेक्सास के तेल उद्योग को नष्ट करना चाहते हैं, बल्कि वे हमारे देश को नष्ट करना चाहते हैं। "

राष्ट्रपति ट्रम्प ने इन देशों पर आरोप लगाया कि ऐसे कट्टरपंथी देश किसी भी तरह से देश से प्यार नहीं करते हैं। उन्हें अमेरिकी जीवन पद्धति के लिए कोई सम्मान नहीं है। हमारे लोग अपने देश, राष्ट्रगान और झंडे से प्यार करते हैं।

loading...