इस देश में बेकाबू हुआ कोरोना, फिर लागू करना पड़ा लॉकडाउन

Wednesday, 01 Jul 2020 12:10:28 PM

लंदन। कोरोना वायरस महामारी ने हम सभी के जीवन पर गहरा असर डाला है लेकिन इसका असर मौत के बाद भी नज़र आ रहा है. चीन से फैले कोरोना वायरस ने भारत समेत दुनिया के कई देशों में हाहाकार मचा दिया है। चीन और इटली समेत दुनियाभर में कोरोना वायरस से हजारों लोगों की जान ले ली है और लाखों लोगों इसकी चपेट में है। इंग्लैंड में भी, कोरोना रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसे देखते हुए इंग्लैंड के ईस्ट मिडलैंड इलाके लीसेस्टर में फिर से तालाबंदी लागू कर दी गई है। बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोग लीसेस्टर में रहते हैं और यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही थी।


लीसेस्टर में अनावश्यक सामान की दुकानें 15 जून को खुलीं और अब मंगलवार से बंद हो जाएंगी। स्कूल भी चुनिंदा कक्षाओं के लिए 1 जून से शुरू किया गया था और अब नए आदेश के बाद गुरुवार से स्कूल भी बंद कर दिया जाएगा। इसी समय, इंग्लैंड में 4 जुलाई से पब, रेस्तरां, अवकाश केंद्र, सिनेमा, धार्मिक स्थान खुलने थे, लेकिन अब वे लीसेस्टर में बंद हो जाएंगे। जब तक आवश्यकता न हो, शहर से बाहर जाने पर प्रतिबंध है और लोगों को अपने घरों में रहने के निर्देश दिए जा रहे हैं। हाउस ऑफ कॉमन में स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने बताया है कि, 'हम लीसेस्टर में लोगों को घर के अंदर रहने की सलाह दे रहे हैं। हम लीसेस्टर के अंदर और बाहर सभी आवश्यक यात्रा के खिलाफ हैं।

हैनकॉक ने कहा कि लीसेस्टर में देश के कुल रोगियों में से 10 प्रतिशत संक्रमित हैं और हम अगले दो सप्ताह तक लॉकडाउन की समीक्षा करेंगे। हम लंबे समय तक लॉकडाउन जारी नहीं रखेंगे, जब तक कि इसकी आवश्यकता न हो। लीसेस्टर के कई युवाओं को भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है।

loading...