Wearied News: अब नाक-गले से नहीं, बल्कि शरीर के इस हिस्से से कोरोना का सैंपल ले रहा चीन, हर कोई भड़क जाएगा

Friday, 05 Mar 2021 02:28:47 PM

बीजिंग: कोरोना टेस्ट के लिए लोगों ने अपनी नाक और मुंह से नमूने लेते हुए खुद की कई तस्वीरें देखी होंगी। तस्वीरों में जो एक बात नोट की गई थी, वह यह थी कि लोगों को नाक और मुंह के अंदर स्वैब डालने से काफी परेशानी होती है। इसलिए अब चीन ने जो नया कोरोना टेस्ट शुरू किया है वह इस नई आने वाली समस्या के सामने कुछ भी नहीं है। चीन ने हर विदेशी के लिए यह अनिवार्य कर दिया है कि वह एनाब स्वैब लेकर कोरोना टेस्ट करवाए। चीन के हवाई अड्डों पर शुरू किए गए इस परीक्षण के कारण दुनिया भर के यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

चीन ने कोरोना के लिए यह विशेष परीक्षण जनवरी के अंतिम सप्ताह से शुरू किया है। यह परीक्षण चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग की सिफारिश पर शुरू किया गया है। आयोग का दावा है कि गुदा से लिया गया स्वाब नाक या गले से लिए गए नमूने की तुलना में बेहतर और सटीक परिणाम देता है। ब्रिटिश अखबार द टाइम्स के अनुसार, इस विशेष परीक्षण के लिए अब बीजिंग और शंघाई हवाई अड्डों पर बड़े केंद्र स्थापित किए जाएंगे। अब तक ये परीक्षण केवल छोटे केंद्रों पर किए जा रहे हैं।



बीजिंग के श्वसन रोग विभाग के निदेशक ली तोंगजेन ने जनवरी में एक साक्षात्कार में वाशिंगटन पोस्ट अखबार को बताया। उन्होंने कहा कि कोरोनोवायरस गले की तुलना में गुदा में अधिक समय तक बना रहता है। हालांकि, साक्षात्कार में, उन्होंने यह भी कहा कि जिन लोगों को छोड़ दिया गया है, उन्हें केवल गुदा से नमूना लेना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह गले द्वारा एक नमूना लेने से अधिक असुविधाजनक है।