ओलंपस ने बंद किया कैमरा बिजनेस, जानें क्या है वजह

Saturday, 27 Jun 2020 08:58:23 AM

जानी-मानी जापानी कंपनी ओलंपस ने अपना कैमरा बिजनेस बेच दिया है। कंपनी 1936 से कैमरे बना रही थी। 84 साल पुराने कैमरा बिजनेस को बंद करके कंपनी अब मेडिकल इमेजिंग उपकरण बनाएगी। जापान इंडस्ट्रियल पार्टनर्स (JIP) ने ओलिंप से व्यापार खरीदा।

ज्ञात हो कि JIP ने पहले Sony से VV कंप्यूटर व्यवसाय भी खरीदा था। ओलंपस के स्वामित्व वाले लोकप्रिय कैमरा ब्रांड जैसे Juico और OM-D हैं। मामले में, ओलिंप ने कहा कि इसने डिजिटल कैमरा बाजार में बने रहने का हर संभव प्रयास किया, लेकिन कंपनी सफल नहीं हो सकी। कैमरा व्यवसाय पहले भी ओलंपस के संपूर्ण व्यवसाय का एक छोटा सा हिस्सा था। इसके साथ ही कंपनी ने यह भी कहा कि स्मार्टफोन की तकनीक में लगातार सुधार के साथ, कैमरों का बाजार लगातार कम होता जा रहा है। ओलंपस पिछले तीन वर्षों से कैमरा व्यवसाय में घाटे का सामना कर रहा था, जिसे कंपनी पिछले तीन वर्षों से कैमरा व्यवसाय से जोड़ रही थी। अब कंपनी ने इसे बंद कर दिया है।



आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ओलिंप ने दुनिया का पहला माइक्रो कैसेट टेप रिकॉर्डर Juico Perlcoder लॉन्च किया था। अब कंपनी एंडोस्कोप जैसे चिकित्सा उपकरण बनाने पर अपना ध्यान केंद्रित करेगी। वही, 1975 में ईस्टमैन कोडक के स्टीवन सैसन नामक एक इंजीनियर ने दुनिया का पहला डिजिटल कैमरा बनाने का प्रयास किया। स्टीवन सैसन का कैमरा पहले एक डिजिटल स्टेन स्नैपर के रूप में पहचाना जाता था। कैमरे का वजन लगभग चार किलोग्राम था। इस कैमरे में ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीरें ली गईं। कैमरे का रिज़ॉल्यूशन 0.01 मेगा पिक्सेल था।

loading...