मोदी सरकार ने कोरोना से लड़ने के लिए 'फार्मा सेक्टर को 10 हजार करोड़ रुपए देने की घोषणा की'

Monday, 23 Mar 2020 12:59:35 PM

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

नई दिल्ली: सरकार ने कोरोना वायरस के कहर के बाद दवाओं के लिए चीन से आयातित कच्चे माल की समस्याओं के कारण देश में अपना विनिर्माण बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दी है। फार्मा सेक्टर के लिए लगभग 10 हजार करोड़ रुपये के पैकेज की घोषणा की गई है। उद्योग जगत ने भी मोदी सरकार के इस कदम का स्वागत किया है।

केंद्र सरकार ने कहा है कि अगले पांच वर्षों में देश में लगभग 3000 करोड़ रुपये के निवेश से तीन 'बल्क ड्रग पार्क' बनाए जाएंगे। इसके साथ ही, सरकार देश के ड्रग इंटरमीडिएट, सक्रिय फार्मा संघटक (एपीआई) यानी कच्चे तेल के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए अगले आठ वर्षों में लगभग 6,940 करोड़ की राशि के साथ उत्पादन लिंक्ड इंसेंटिव (पीएलआई) योजना को लागू करेगी। इस योजना को शनिवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी।



इससे दवाओं के निर्माण में चीन पर भारतीय दवा उद्योग की निर्भरता कम होगी। आपको बता दें कि देश में दवाओं के उत्पादन के लिए आवश्यक कच्चे माल का लगभग तीन-चौथाई हिस्सा चीन से आयात किया जाता है। लेकिन हाल के महीनों में, चीन में कोरोना के कहर के कारण, वहाँ के कारखाने बंद हो गए और इसके कारण भारतीय दवा उद्योग भारी पड़ गया।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures