सरकार रैपिड रेल के विस्तार को मंजूरी, केंद्र सरकार को भेजे जाने का प्रस्ताव

Saturday, 12 Sep 2020 01:37:20 PM

मेरठ: सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुजफ्फरनगर को रैपिड रेल चलाने की अनुमति दे दी है। इसके लिए उन्होंने केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजने के आदेश अधिकारियों को दिए हैं। सीएम ऑफिस ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। सेरिकेल खान से मोदीपुरम तक बनने वाली रैपिड रेल के 82 किलोमीटर के कॉरिडोर पर काम दो चरणों में किया जा रहा है। पहले चरण में, साहिबाबाद से दुहाई तक और दुहाई से शताब्दी नगर तक लगभग 34 किलोमीटर की दूरी पर रैपिड रेल के खंभे का निर्माण शुरू हो गया है।

अब केंद्र सरकार को मुजफ्फरनगर तक राज्य सरकार के प्रस्ताव पर अंतिम निर्णय लेना है। मेरठ से मुजफ्फरनगर तक रैपिड रेल कॉरिडोर के निर्माण के बाद इसमें 50 किमी की वृद्धि होगी। अगर सहमति मिल जाती है, तो कुल 132 किमी का रैपिड रेल कॉरिडोर बनेगा। मेरठ से मुज़फ्फरनगर तक राजमार्ग के कारण, रैपिड रेल एलिवेटेड ट्रैक से ही मुज़फ्फरनगर तक जाएगी।

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन निगम द्वारा 12 स्टेशनों की इस्पात संरचना के लिए निविदाएं पोर्टल पर अपलोड की गई हैं। इसमें परतापुर, रिठानी, शताब्दी नगर, ब्रह्मपुरी, मेरठ उत्तर, मोदीपुरम, मुरादनगर, मोदीनगर दक्षिण, उत्तर, मेरठ दक्षिण, एमईएस कॉलोनी, दौराली शामिल हैं। इसके लिए बोली लगाने की अंतिम तिथि 6 अक्टूबर रखी गई है। इसके अलावा, रैपिड रेल स्टेशनों के लिए कई क्षेत्रों में भूमि की आवश्यकता है। इसके साथ सभी सुरक्षा नियमों का ध्यान रखा जाएगा।