टाटा स्टील में कर्मचारियों पर हुई धनवर्षा, लॉकडाउन में 235.54 करोड़ का बंपर बोनस

Tuesday, 15 Sep 2020 05:15:42 PM

नई दिल्ली। टाटा स्टील में इस वर्ष बिना किसी हलचल के प्रबंधन और यूनियन के बीच सोमवार को बोनस समझौते पर हस्ताक्षर हो गया। समझौते के मुताबिक, इस वर्ष 235.54 करोड़ रुपये कर्मचारियों में बंटेंगे। इसमें जमशेदपुर यूनिट और ट्यूब डिवीजन समेत 12807 कर्मचारियों के बीच 142.05 करोड़ रुपये बंटेंगे। इस वर्ष कर्मचारियों को ग्रेड रिवीजन के एरियर की राशि पर भी बोनस दिया गया है।

जमशेदपुर यूनिट व ट्यूब डिवीजन के कर्मचारियों को इस वर्ष एरियर की राशि पर 212.71 करोड़ रुपये एवं वित्तीय वर्ष 2019-20 के वार्षिक बेसिक और डीए पर वार्षिक बोनस 888.13 करोड़ रुपये दोनों मिलाकर 1100.84 करोड़ रुपये पर बोनस राशि मिलेगी। यूं तो टाटा स्टील में प्रतिशत के आधार पर बोनस नहीं मिलता है। फार्मूला के आधार पर गणना की गई राशि का भुगतान किया जाता है। हालांकि प्रतिशत पर इसकी कर्मचारी अपने बेसिक व डीए के आधार पर गणना कर लेते हैं। इसके अनुसार, वार्षिक बोनस की राशि 888.13 करोड़ के आधार पर 15.99 प्रतिशत तथा एरियर को मिलाकर कुल राशि 1100.84 करोड़ रुपये के आधार पर 12.9 प्रतिशत बोनस होता है।


हालांकि पूरे टाटा स्टील के लिए बोनस राशि 1825.37 करोड़ रुपये है, जिसमें जमशेदपुर व ट्यूब डिवीजन के लिए 1100.84 करोड़ रुपये शामिल हैं। इस वर्ष एनएस ग्रेड के कर्मचारियों को न्यूनतम 26839 रुपये और अधिकतम 84496 रुपये मिलेंगे। ओल्ड ग्रेड में औसत 110914 व अधिकतम 301402 रुपये बोनस मिलेगा। समझौते पर प्रबंधन की ओर से प्रबंध निदेशक टीवी नरेंद्रन, उपाध्यक्ष सुरेश दत्त त्रिपाठी, चीफ अत्रेयी सरकार, जुबिन पालिया, यूनियन से आर रवि प्रसाद, सतीश सिंह, अरविंद पांडेय, प्रभात लाल, शाहनवाज आलम, भगवान सिंह, हरिशंकर सिंह, शत्रुघ्न कुमार राय, नितेश राज, धर्मेंद्र उपाध्याय व कमलेश सिंह ने हस्ताक्षर किए।