CM योगी से पूछा सवाल तो मिला ऐसा जवाब, क्या यूपी के 4 अधिकारी BJP एजेंट के तौर पर काम कर रहे हैं

 
Yogi
नई दिल्ली. नेताओं के पाला बदलने की प्रक्रिया से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सियासी उठापठक जारी है। समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी ने योगी सरकार के सबसे बड़े अधिकारियों पर भाजपा के एजेंट के तौर पर काम करने का आरोप लगाया और चुनाव आयोग को पत्र लिखकर उन्हें हटाने की मांग की है। जिनके खिलाफ सपा ने मोर्चा खोल दिया है। 
* आतंकियों के प्रति है सपा की संवेदना 
Yogi
 योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि कोई एंटी-नेशनल एलिमेंट उत्तर प्रदेश में घुसकर राष्ट्रीय सुरक्षा में सेंध नहीं लगा पाएगा। समाजवादी पार्टी की संवेदना माफिया, अपराधियों, राम जन्म भूमि पर हमला करने वाले आतंकियों, संकट मोचना पर हमला करने वाले, प्रदेश की न्याय पालिका पर हमला करने वाले लोगों के प्रति है। इसीलिए ये लोग अधिकारियों पर सवाल खड़े करते हैं।
* क्या बोले सीएम योगी 
द लल्लनटॉप को दिए एक इंटरव्यू में जब योगी आदित्यनाथ ने सवाल पूछा गया कि आपके चार बड़े अधिकारियों पर विपक्ष, भाजपा के एजेंट के तौर पर काम करने का आरोप लगा रही है, इस पर आपका क्या कहना है? अधिकारियों पर सवाल उठाये जाने पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी नीति अपराध के प्रति जीरो टालरेंस की नीति के तहत काम करना है। 
कुछ दिन पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव और मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने चुनाव आयोग को लिखे अपने पत्र में कहा था कि उत्तर प्रदेश शासन में अवनीश अवस्थी, नवनीत सहगल, प्रशांत कुमार और अमिताभ यश अपनी सेवाएं दे रहे हैं। एक इंटरव्यू के दौरान जब सीएम योगी से इससे जुड़ा सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के गुंडे अराजकता नहीं फैला पा रहे हैं, इसलिए अधिकारियों को टारगेट कर रहे हैं।