बाहर वालों की एंट्री बंद प्रशासन ने जारी किए सख्त आदेश, मकर संक्रांति पर नहीं लगा पाएंगे गंगा में डुबकी

 
Corona
नई दिल्ली. उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हरिद्वार जिला प्रशासन ने 14 जनवरी मकर संक्रांति स्नान के अवसर गंगा में डुबकी लगाने पर पाबंदी लगा दी है। इसमें कहा गया है कि मकर संक्रांति के दिन स्थानीय और बाहरी किसी भी व्यक्ति को गंगा स्नान करने की अनुमित नहीं होगी। जिलाधिकारी विनय शंकर पांडे ने ये निर्देश जारी किया है। बता दें कि उत्तराखंड में सोमवार को 1292 नए संक्रमित पाये गये हैं। इस दौरान पांच मरीजों की मौत हुई है। ऐसे में कुल मृतकों की संख्या 7429 हो गई है। राज्य में संक्रमण दर 07.57 प्रतिशत है।
* उल्लंघन पर होगी कार्रवाई 
Corona
आदेश में कहा गया है कि 14 जनवरी की रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक रात कर्फ्यू लगाया जाएगा। वहीं धार्मिक मण्डली पर जिला प्रशासन ने पूरी तरह से प्रतिबंध लागू किया है। इस दौरान अगर कोई कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ महामारी रोग अधिनियम 1897 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
* कोरोना प्रसार रोकने के लिए कदम 
जारी निर्देश में कहा गया है कि गंगा स्नान के लिए हरकी पैड़ी सहित सभी गंगा घाटों पर किसी को भी जाने की इजाजत नहीं होगी। दरअसल मकर संक्रांति के दिन बड़ी तादाद में लोगों के गंगा स्नान करने की उम्मीद है। ऐसे में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन की तरफ से यह कदम उठाया गया है