स्वामी प्रसाद मौर्य की राह चले विधायक विनय शाक्य, भाजपा को लगा आठवां झटका

 
A
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को एक और झटका लगा है। भाजपा को शाक्य के इस्तीफे के रूप में 8वां झटका लगा है। औरैया के बिधूना से भाजपा विधायक विनय शाक्य ने गुरुवार को इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा कि स्वामी प्रसाद मौर्य उनके नेता हैं और वे उनके साथ ही हैं। इसके पहले, शिकोहाबाद से भाजपा विधायक मुकेश वर्मा ने इस्तीफा दे दिया।  
A
”स्वामी प्रसाद मौर्य, शोषित और पीड़ितों की आवाज हैं, अपने इस्तीफे में विनय शाक्य ने कहा,मैं उनके साथ हूं। विनय शाक्य की बेटी रिया ने बीते दिनों एक वीडियो जारी कर कहा था। कि उनके पिता का चाचा ने अपहरण कर लिया है। इसके बाद विनय शाक्य का बयान आया था और उन्होंने अपहरण की खबर को गलत बताया था। साथ ही कहा था कि वे स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ समाजवादी पार्टी में जाएंगे।
 एसपी ने कहा कि विधायक विनय शाक्य बिधूना, शान्ति कालोनी जनपद इटावा में सकुशल अपनी मां के साथ मौजूद हैं. विधायक की बेटी के आरोपों पर औरैया के पुलिस अधीक्षक का भी बयान आया था।अपहरण का आरोप झूठा और निराधार है।