Political Gossip: 'दिल्ली में बुलडोजर मत करो, लेकिन पंजाब से अतिक्रमण हटाओ...', आप के दो चेहरे क्यों हैं?

 
vv

नई दिल्ली: दिल्ली में अतिक्रमण के खिलाफ एमसीडी की कार्रवाई को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) लगातार बीजेपी पर हमला बोल रही है. वहीं दूसरी ओर पंजाब की आप सरकार भी अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चला रही है. पंजाब की आप सरकार ने दावा किया है कि उसने 12 दिनों में 1000 एकड़ जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराया है। दरअसल, बीजेपी शासित एमसीडी दिल्ली में अतिक्रमण के खिलाफ बुलडोजर अभियान चला रही है.

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया है कि भाजपा की योजना अतिक्रमण कार्रवाई के तहत 63 लाख घरों को नष्ट करने की है। उन्होंने कहा कि कच्ची कॉलोनियों और मलिन बस्तियों में 60 लाख घर और पक्की कॉलोनियों में तीन लाख घर हैं। आप नेता सौरभ भारद्वाज ने दिल्ली में जल्द नगर निकाय चुनाव कराने की मांग करते हुए कहा कि ये चुनाव तय करेंगे कि अनधिकृत निर्माण और बस्तियों के खिलाफ इतने बड़े पैमाने पर कार्रवाई की जाए या नहीं. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा शासित दिल्ली के निगमों ने अपने कार्यकाल के अंत में यह अभियान शुरू किया है। जबकि भाजपा नेता पिछले 15 साल से नगर निगम में रहकर रिश्वत लेकर दिल्ली भर में अवैध निर्माण करवा रहे हैं। सौरभ भारद्वाज ने आगे कहा कि, अगर बीजेपी का अतिक्रमण के खिलाफ अभियान इसी तरह चलता रहा तो वह 63 लाख लोगों को बेघर कर देगी.
 
पंजाब में अतिक्रमण के खिलाफ आप सरकार ने चलाया अभियान:-


 
वहीं, दिल्ली में अतिक्रमण को लेकर भले ही आप भाजपा का विरोध कर रही है। लेकिन पंजाब में ही आप सरकार के अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चला रही है. पंजाब के ग्रामीण विकास मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल ने गुरुवार को दावा किया कि पिछले 12 दिनों में 1000 एकड़ पंचायत भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण विकास मंत्रालय ने पिछले महीने पंचायत की जमीन से अतिक्रमण हटाने के लिए अभियान शुरू किया था. इस अभियान के तहत 12 दिनों में 1008 एकड़ भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है. उन्होंने कहा कि विशेष अभियान के तहत 302 करोड़ की जमीन से अतिक्रमण हटाया गया है. ,
 
उन्होंने बताया कि पंचायत की जमीन खाली करने के लिए लोग खुद आगे आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि फतेहगढ़ साहिब जिले के चलेरी कलां गांव में लोगों ने स्वेच्छा से 417 एकड़ पंचायत भूमि खाली कर दी है. उन्होंने बताया कि राज्य सरकार इस जमीन पर पशु चिकित्सालय का निर्माण कराएगी। इससे पहले बुधवार को सीएम भगवंत मान ने कहा था कि जिन लोगों ने सरकारी या पंचायत की जमीन पर अवैध कब्जा किया है, अगर वह खाली नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.