लालू के राज में और नीतीश के राज में पिस्टल से लूटते थे अपराधी..: पीके

 
d

पटना: चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने हाल ही में बिहार को लेकर एक बड़ा बयान दिया, उन्होंने कहा कि आज भी बिहार में जंगल राज है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के शासनकाल में पहले बदमाश व्यापारियों और लोगों को पिस्तौल से लूटते थे। अब सीएम नीतीश कुमार के राज में अफसर कलम से जनता को लूट रहे हैं. पश्चिमी चंपारण जिले में जनसुराज पदयात्रा को लेकर प्रशांत किशोर ने महागठबंधन सरकार पर जमकर हमला बोला.

बेतिया में लोगों को संबोधित करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार में अभी जंगल राज खत्म नहीं हुआ है. बस लूटने का तरीका बदल गया है। जब लालू यादव सीएम थे तब अपराधी बंदूक और दूसरे हथियारों से लोगों को खुलेआम लूटते थे. वह दुकानों पर जाकर जमा करता था। प्रशांत किशोर ने कहा कि अब नीतीश कुमार के अधिकारी जनता को लूट रहे हैं. लोगों को बंदूक से नहीं कलम से लूटा जा रहा है। आज अगर आप कोई सरकारी काम करवाना चाहते हैं तो योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो आपको पैसे देने होंगे। बिहार में भ्रष्टाचार चरम पर है।


पिछले दिनों प्रशांत किशोर ने बिहार की सड़कों की तुलना जंगलराज से भी की थी. प्रशांत किशोर ने कहा कि वह करीब सवा महीने से पैदल चल रहे हैं और गांवों में सड़कों की हालत लालू यादव के जंगल राज जैसी ही है. प्रशांत किशोर का कहना है कि वह रोजाना 20 से 25 किलोमीटर पैदल चलते हैं, फिर 3-4 दिन के बीच एक दिन रुककर आराम करते हैं। वह रास्ते में आने वाले गांवों के लोगों से बात कर उनकी समस्याओं को बयां करते हैं.