‘कैमरा निकॉन और कवर कैनन का’, PM को ट्रोल करके बुरे फंसे TMC नेता, BJP ने यूं ली चुटकी

 
uju

कोलकाता: तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य जवाहर सरकार ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर झूठ फैलाया है. जवाहर सरकार, जो कभी एक आईएएस अधिकारी थे, ने शनिवार (17 सितंबर, 2022) को मध्य प्रदेश के कुनो नेशनल पार्क में 'प्रोजेक्ट चीता' के दौरान ली गई प्रधान मंत्री मोदी की एक तस्वीर को संपादित और साझा किया। इस एडिट की गई तस्वीर में पीएम मोदी के हाथ में पकड़े हुए कैमरे का ढक्कन बंद दिखाया गया है, जबकि असली तस्वीर में कैमरे पर टोपी नहीं थी.



हालांकि सोशल मीडिया पर शर्मिंदा होने के बाद टीएमसी नेता जवाहर ने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया, लेकिन इसका स्क्रीनशॉट वायरल हो रहा है. दूरदर्शन के वरिष्ठ पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, 'भारत के प्रधानमंत्री की ये दो तस्वीरें फर्जी हैं, फोटोशॉप की हुई हैं और मोदी को ट्रोल करने के लिए ट्वीट किया गया है। और जिस व्यक्ति ने इन नकली तस्वीरों को ट्वीट किया वह वर्तमान में राज्यसभा सांसद है जो सार्वजनिक प्रसारक प्रसार भारती के सीईओ और देश के पूर्व संस्कृति सचिव रह चुके हैं।'

वहीं विवाद बढ़ने के बाद जवाहर सरकार ने भले ही अपना ट्वीट डिलीट कर दिया हो, लेकिन अब उनके स्क्रीनशॉट वायरल होने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की जा रही है. कई सोशल मीडिया यूजर्स ने दिल्ली पुलिस, उत्तर प्रदेश पुलिस और पीएमओ को टैग कर जवाहर सरकार के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. वहीं, कई नेटिज़न्स जवाहर की जमकर आलोचना कर रहे हैं।