गांधी परिवार के खिलाफ सीबीआई को एक भी सबूत नहीं मिला, बीजेपी ने कोर्ट में मांगी माफी?

 
ii

नई दिल्ली: सोशल मीडिया आजकल खबरों और सूचनाओं को फैलाने का एक बड़ा जरिया बन गया है, लेकिन इसका फायदा उठाकर कुछ असामाजिक तत्व फेक न्यूज फैलाकर जनता को गुमराह करने का काम भी करते हैं. ऐसा ही एक 'स्क्रीनशॉट' सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिस पर 'आजतक' न्यूज चैनल का नाम लिखा है। 'आजतक' के वायरल हो रहे स्क्रीनशॉट में लिखा है, 'गांधी परिवार के खिलाफ एक भी भ्रष्टाचार का सबूत सीबीआई को नहीं मिला, बीजेपी ने कोर्ट में गांधी परिवार से मांगी माफी.' कांग्रेस समर्थक इस स्क्रीनशॉट को जमकर शेयर कर रहे हैं और लिख रहे हैं- 'के वंशज माफी मांगने वालों ने फिर माफी मांगी।''

वायरल हो रहे इस स्क्रीनशॉट की सच्चाई जानने के लिए हमने इससे जुड़े कीवर्ड्स को इंटरनेट पर सर्च किया। लेकिन सर्च रिजल्ट में हमें इससे जुड़ी कोई खबर नहीं मिली, जैसा कि स्क्रीनशॉट में दावा किया गया है। इसके बाद जब हमने 'आज तक' का ट्विटर हैंडल सर्च किया तो सच सामने आया। दरअसल, मीडिया चैनल 'आज तक' ने ही 31 अगस्त 2021 को वायरल हुए स्क्रीनशॉट को फर्जी बताते हुए शेयर किया था। मीडिया चैनल ने अपने ट्वीट में स्क्रीनशॉट साझा किया था और लिखा था कि "आजतक के ट्वीट के नाम से इस फर्जी ट्वीट की तस्वीर प्रसारित की जा रही है।"


बता दें कि, नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम अभी भी गांधी परिवार से पूछताछ कर रही है. राहुल गांधी से पूछताछ के बाद जांच एजेंसी ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को तलब किया और 21 जुलाई को पूछताछ के लिए तलब किया. इससे पहले भी सोनिया गांधी को ईडी ने तलब किया था, लेकिन उस समय सोनिया को कोरोना संक्रमण के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था. . अब एक बार फिर उसे तलब किया गया है और उससे 21 जुलाई को पूछताछ होनी है। ऐसे में वायरल स्क्रीनशॉट में किया जा रहा दावा पूरी तरह फर्जी है।