अमरनाथ में बारिश के बाद बाढ़, सैकड़ों लोगों को बचाया गया

 
hh

जम्मू: भारी बारिश से अमरनाथ गुफा के आसपास बाढ़ आ गई है. गुफा के आसपास के पहाड़ों में भारी बारिश के कारण आज दोपहर करीब 3 बजे जलाशयों और आसपास के झरनों में पानी भर गया. तत्काल अलर्ट जारी किया गया। अब तक 4,000 से अधिक तीर्थयात्रियों को इलाके से निकाला जा चुका है। स्थिति नियंत्रण में है। इससे पहले 8 जुलाई को अमरनाथ गुफा के पास बादल फटा था। उस घटना में 15 लोगों की मौत हो गई थी और 40 से ज्यादा लापता हो गए थे।

वही बादल फटने की सूचना 8 जुलाई की शाम करीब साढ़े पांच बजे मिली थी। जिसमें गुफा के पास बने कई टेंट नष्ट हो गए थे। सुरक्षा बलों की आपदा प्रबंधन एजेंसियों द्वारा तुरंत बचाव अभियान शुरू किया गया। घायल व्यक्तियों को अस्पतालों में ले जाने के लिए सेना के हेलीकॉप्टरों को सेवा में लगाया गया। तब यात्रा भी रद्द कर दी गई थी। इसके बाद 16 जुलाई को यात्रा फिर से शुरू हुई।


43-दिवसीय वार्षिक अमरनाथ यात्रा 30 जून को दो प्रमुख मार्गों (दक्षिण कश्मीर में 48 किलोमीटर लंबी पारंपरिक नुनवान-पहलगाम मार्ग और मध्य कश्मीर में गांदरबल के 14 किलोमीटर लंबे बालटाल मार्ग) के माध्यम से शुरू हुई। अधिकारियों के मुताबिक इस साल अब तक 2.30 लाख से ज्यादा तीर्थयात्री पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन कर चुके हैं। अमरनाथ यात्रा का समापन 11 अगस्त को रक्षा बंधन के मौके पर होगा। अधिकारियों के मुताबिक इस बार अमरनाथ यात्रा के कारण कुल 36 तीर्थयात्रियों की मौत हुई है। वहीं, एक जुलाई को पवित्र गुफा के पास अचानक आई बाढ़ में 15 अन्य तीर्थयात्रियों की जान चली गई थी.