Lifestyle News-अच्छी खबर! आपके घर की लड़कियों को सरकार देगी 15000 रुपये

 
Hs

देश की बढती आबादी के कारण देश में लगातार बेरोजगारी बढती जा रही हैं और इससे लोग बहुत ही परेशान हैं। इस परेशानी को कम करने के लिए हर साल, महीने में केंद्र सरकार और राज्य सरकारें देश के सभी वर्गों के लिए विभिन्न योजनाएं चलाती हैं, जिसके माध्यम से सरकार लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। आज हम आपको एक ऐसी योजना के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें सरकार आपकी बेटियों को पूरे 15000 रुपये देती है।

Hs

इस सरकारी योजना का नाम कन्या सुमंगल योजना है, जिसके तहत सरकार आपकी बेटियों को 15000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करती है। इस योजना का लाब केवल यूपी में रहने वाले लोग ही उठा सकते हैं। इस योजना को योगी सरकार चला रही है. इस प्लान में आपको कुल राशि का भुगतान 6 किश्तों में किया जाता है। कन्या सुमंगल योजना का लाभ उठाने के लिए आपके परिवार की अधिकतम वार्षिक आय 3 लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए।

योजना के तहत 21 दिसंबर 2021 को पीएम मोदी ने 1.01 लाख लाभार्थियों के खातों में 20.20 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए. हम आपको बता दें कि इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी का परिवार उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।

योजना का लाभ उठाने के लिए आपके पास एक स्थायी निवास प्रमाण पत्र होना चाहिए, जिसमें राशन कार्ड / आधार कार्ड / मतदाता पहचान पत्र / बिजली / टेलीफोन बिल शामिल होना चाहिए। लाभार्थी की अधिकतम वार्षिक पारिवारिक आय 3 लाख होनी चाहिए। एक परिवार में अधिकतम दो लड़कियां इस योजना का लाभ उठा सकती हैं। परिवार में अधिकतम दो बच्चे होने चाहिए। अगर घर में पहली संतान लड़की है और फिर जुड़वां लड़कियां हैं, तो तीनों लड़कियों को इस सुविधा का लाभ मिलेगा।

Hs

2000 रुपये की पहली किस्त बेटी के जन्म के बाद दी जाती है।

एक वर्ष तक पूर्ण टीकाकरण के लिए 1000 रुपये की दूसरी किस्त उपलब्ध है।

तीसरी किश्त 2000/- रुपये कक्षा 1 में प्रवेश पर उपलब्ध है।

कक्षा 6वीं में प्रवेश के लिए 2000 रुपये की चौथी किश्त और 9वीं कक्षा में प्रवेश के लिए 5 हजार रुपये की पांचवीं किस्त उपलब्ध है।

छठी किस्त के लिए 5000 - 10 वीं या 12 वीं पास करने के बाद और शेष राशि का भुगतान 2 साल से अधिक की अवधि के लिए स्नातक या डिप्लोमा पाठ्यक्रम के बाद किया जाता है।

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं