Health News- जानिए क्यों आपके शरीर में रूह में कांटे उग जाते हैं, जानिए वजह

 
HS

आपने देखा होगा कि कभी-कभी आपके शरीर त्वचा की उपरी सतह पर कुछ कांटे जैसे उग जाते हैं, जिसकी वजह होती ज्यादा सर्दी, एक्साइटमेंट या डर लगता हैं, तब आते हैं, लेकिन दोस्तो क्या आपको पता है कि इसकी वजह क्या हैँ। नहीं ना चिकित्सा की भाषा में, इस तरह के बालों के विकास को पाइलोएरेशन, कटिस एनसेरिना या हॉरिपिलेशन कहा जाता है। बोली में हम इसे गूसबंप्स या स्टैंडिंग कांटों कहते हैं।

HS

इस प्रक्रिया में आपकी त्वचा के रोम छिद्र खुल जाते हैं। अगर आपके घुंघराले बाल नहीं हैं, तो यह त्वचा पर आता है। कभी-कभी शारीरिक श्रम, लग्वी या सुंडास जैसी दैनिक गतिविधियों में भी ऐसा होता हैं।

काँटों का एक कारण यह भी है कि शारीरिक परिश्रम आपके सहानुभूति और तंत्रिका तंत्र को सक्रिय कर देता है।कभी-कभी ये कांटे अकारण ही आ जाते हैं। ये कांटे आपके शरीर को गर्म रखने में आपकी मदद करते हैं।

HS

जब आपको बहुत ज्यादा ठंड लगती है तो ये आंवले मांसपेशियों के मूवमेंट से सक्रिय हो जाते हैं और ऐसे समय में शरीर गर्म हो जाता है। जैसे-जैसे आपका शरीर गर्म होता है, आपके बाल या ये आंवले धीरे-धीरे गायब हो जाते हैं।

कभी-कभी, जल्दबाजी में किसी भावना का अनुभव होने पर भी, रोंगटे खड़े हो जाते हैं। वास्तव में, जब आप तीव्र भावनाओं को महसूस करते हैं तो शरीर प्रतिक्रिया करता है।

एक अध्ययन के अनुसार, सामाजिक रूप से उत्तेजक दृश्यों को देखना, जैसे कि फिल्म का दृश्य या किसी सुंदर गीत का शानदार प्रदर्शन, रोंगटे खड़े कर देता है।

आप जो कुछ भी सोचते हैं, सुनते हैं, देखते हैं, सूंघते हैं, स्वाद लेते हैं, स्पर्श करते हैं। तब आपका शरीर प्रतिक्रिया करता है। साथ ही, इन सभी प्रतिक्रियाओं से आपको पसीना आ सकता है या आपकी हृदय गति बढ़ सकती है।