इस शख्स ने 22 साल से नहीं नहाया, इस वजह से चली गई नौकरी भी

 
vv

गोपालगंज : बिहार के गोपालगंज में एक शख्स की अजीबोगरीब हरकत से हर कोई हैरान है. 62 वर्षीय धर्मदेव राम पिछले 22 साल से नहाए हैं और न नहाए जाने पर अड़े हैं। और भी चौंकाने वाली बात यह है कि व्यक्ति के शरीर से बहुत बदबू आती है, लेकिन वह अभी तक बीमार नहीं हुआ है। स्नान नहीं करने के कारण उसकी नौकरी चली गई। वह कोलकाता में जूट की एक फैक्ट्री में काम करता था।

धर्मदेव राम ने स्नान न करने के पीछे एक अनूठी प्रतिज्ञा ली है, जो बहुत ही आश्चर्यजनक है। उनका कहना है कि जब तक महिलाओं पर अत्याचार, भूमि विवाद और हत्याएं खत्म नहीं हो जाती, तब तक वह स्नान नहीं करेंगे। ये तीनों मांगें पूरी होने के बाद ही वह अपने शरीर पर जल चढ़ाएंगे। धर्मदेव पिछले 22 साल से गांव के ब्रह्मस्थान के पास रह रहे हैं। 2003 में अपनी पत्नी माया देवी की मृत्यु के बाद भी उन्होंने स्नान नहीं किया। तब उसके दोनों पुत्र मर गए, तौभी उस ने शरीर पर जल की एक बूंद भी न डाली।


वहीं गांव के लोगों का कहना है कि धर्मदेव तंत्र-मंत्र करते हैं, जिससे उन्हें कोई मानसिक बीमारी हो गई है. इस वजह से वह न नहाने की जिद कर रहे हैं। धर्मदेव का कहना है कि 1987 में उन्हें अचानक लगा कि भूमि विवाद, हत्या और महिलाओं पर अत्याचार बढ़ने लगे हैं। तब से उन्होंने संकल्प लिया है कि अगर अत्याचार नहीं रुकेंगे तो वह स्नान नहीं करेंगे। इसके कारण उन्होंने 6 महीने एक गुरु के साथ बिताए और गुरुदक्षिणा ली। धर्मदेव भगवान श्री राम को अपना आदर्श मानते हैं और उनके वचनों को अपने जीवन में उतारते हैं।