जानिए कब पेश किया गया पहला इमोजी, क्या है इसका इतिहास

 
ju

आप अपने मोबाइल फोन या फेसबुक अकाउंट पर रोजाना सैकड़ों इमोजी का इस्तेमाल करते हैं। अपने दोस्तों के साथ चैट करते समय, आप ये इमोजी भेजते हैं। कभी हंसी तो कभी रोना। कभी दुख की, कभी बीमारी की। ऐसे इमोजी देखकर चेहरे पर मुस्कान तैर जाती है। आज विश्व इमोजी दिवस है। तो आज हम आपको इमोजी से जुड़ी कुछ खास बातें बताएंगे। जिसे जानकर आप हैरानी से भर जाएंगे।

पहला इमोजी 1990 में बनाया गया था- इमोजी का इस्तेमाल 1990 में शुरू हुआ था। Apple कंपनी ने इसे सबसे पहले अपने iPhone को दिया था। इसके बाद इमोजी बनने लगे और स्मार्टफोन के आने के बाद इमोजी का क्षेत्र काफी व्यापक हो गया। पहला इमोजी डे 17 जुलाई 2014 को मनाया गया था। इमोजी डे की शुरुआत जेरेमी बर्ग ने की थी। उन्होंने इमोजीपीडिया बनाया, जो एक इमोजी सर्च इंजन है।


 
भारतीयों को पसंद है यह इमोजी- भारतीयों की बात करें तो फोन चैट के दौरान शब्दों से ज्यादा इमोजी का इस्तेमाल करते हैं। भारतीय सबसे ज्यादा हंसने और आंसू बहाने वाले इमोजी का इस्तेमाल करते हैं। इसके बाद वे मुस्कुराते हुए चेहरे वाले इमोजी और उसके बाद ग्रीटिंग इमोजी का इस्तेमाल करते हैं।

अब तक बन चुके हैं इतने इमोजी- जानकारी के मुताबिक साल 2018 तक दुनियाभर में अब तक 2,823 इमोजी बनाए जा चुके हैं. और जहां फिलहाल कुछ नए इमोजी लॉन्च करने की तैयारी की जा रही है, वहीं यूनिकोड कंसोर्टियम इसके लिए एक फ्रेमवर्क तैयार करता है. और तय करता है कि कौन सी इमोजी बनाई जानी चाहिए। हालाँकि, Google और Apple जैसी कुछ कंपनियां अपनी इमोजी बनाने के लिए स्वतंत्र हैं।