Health Care Tips: ब्लड शुगर बढ़ने के दौरान होने वाला दर्द से राहत पाने के लिए अपनाए ये उपाय !

 
Suger
बदलती जीवनशैली और कामकाज में व्यस्त लोगों को कई सारी छोटी मोटी समस्याएं होती हैं। लेकिन कुछ स्वास्थ्य समस्या भविष्य में होने वाली बीमारियों के संकेत होते हैं। बता दें की डायबिटीज के मरीजों के लिए ब्लड शुगर (Blood Sugar) बढ़ने के साथ मरीजों में सबसे गंभीर समस्या हाथ-पैरों में दर्द होना है। शुगर के मरीज अक्सर इसकी शिकायत करते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि डायबिटीज बीमारी में धीरे-धीरे शरीर खोखला हो जाता है। यदि आप जोड़ों या कंधे के दर्द की परेशानी का सामना कर रहे हैं या आपको बगैर किसी कारण भी जोड़ों में दर्द होता है तो सचेत हो जाएं, ये डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी का संकेत हो सकता है।
Suger
मधुमेह रोगियों की मांसपेशियां, हड्डी और लिगामेंट्स कमजोर हो जाते हैं। इसी कारण उन्हें जोड़ों में दर्द की परेशानी हो सकती है। ब्लड शुगर बढ़ने से कई दूसरे अंगों पर भी इसका प्रभाव पड़ता है। साथ ही, जॉइंट्स स्वेलिंग और मूवमेंट में दिक्कत होना भी इस बीमारी का लक्षण हो सकता है। इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे ऐसे कुछ तरीको के बारे जिन्हे अपनाकर आप इससे राहत पा सकते है। आइए जानते है -
1. मधुमेह रोगियों के लिए एरोबिक एक्सरसाइज काफी फायदेमंद है। जैसे चलना या तैरना आमतौर पर कूल्हे और घुटने के कामकाज में सुधार करता है। इसलिए जोड़ों में दर्द से पीड़ित अधिकांश लोगों के लिए वाटर एक्सरसाइज भी बहुत प्रभावी होती हैं। इसके अलावा आप साइकिल भी चला सकते हैं।
Sugar
2. स्ट्रेचिंग सभी के लिए बेहद फायदेमंद है। इसे करने से न केवल हाथ-पैरों का दर्द दूर होता है बल्कि मसल्स को टोन करने में भी मदद मिलती है। डायबिटीज से पीड़ित मरीजों को कई तरह की स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज करना चाहिए, इससे आपको राहत मिल सकती है। फिटनेस एक्सपर्ट्स के मुताबिक रोजाना सुबह स्ट्रेचिंग करने से शरीर को ज्यादा फायदा हो सकता है। 
3. अगर आप मधुमेह के मरीज हैं और धूम्रपान करते हैं तो तत्काल प्रभाव से इसे पूरी तरह से छोड़ दें। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक स्मोकिंग करने से ऊतकों (Tissues) पर असर पड़ता है, जिससे अधिक दर्द होता है। इसलिए कैल्शियम और प्रोटीन वाली चीजों का सेवन करना चाहिए।
4. वहीं यदि आपके जोड़ों में तेज दर्द है तो इससे राहत पाने के लिए आप हॉट एंड कोल्ड थेरेपी का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे काफी राहत मिलती है। इस थेरेपी में आपको 10-15 मिनट के लिए दर्द हो रहे जोड़ों पर बर्फ रखना होगा। ऐसा करने से इससे सूजन कम हो सकती है। इसके अलावा आप हीट पैड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।