Health Care Tips: आंवले का मुरब्बे का सुबह खाली पेट करें सेवन, सेहत को मिलेंगे कई चमत्कारी फायदे !

 
Aavla
आयुर्वेद में आंवले को वरदान माना गया है. कहा जाता है कि रोजाना एक आंवले का सेवन करने से तमाम समस्याओं से बचा जा सकता है. आंवले (Amla) में कई सारे औषधीय तत्व पाए जाते है. लेकिन आंवला काफी खट्टा होता है, इसलिए इसका सेवन हर कोई नहीं कर पाता. ऐसे में आंवले का मुरब्बा (Amla Murabba) बेहतर विकल्प है. आंवले का मुरब्बा खाने में काफी स्वादिष्ट होता है. इसे घर पर आसानी से तैयार किया जा सकता है या आप इसे बाजार से भी खरीद सकते हैं. कहा जाता है कि रोजाना खाली पेट अगर एक आंवले का मुरब्बा खाया जाए तो सेहत को बहुत सारे लाभ मिलते हैं और शरीर कई बीमारियों से बचा रहता है. इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि खाली पेट आंवले का मुरब्बे के सेवन से क्या - क्या फायदे मिलते है। आइए जानते है -
1. हार्ट के लिए बेहद लाभकारी :
Dil
आंवला हार्ट से जुड़ी तमाम समस्याओं को भी रोकने में सक्षम है. इसमें क्रोमियम, जिंक और कॉपर की अच्छी खासी मात्रा पायी जाती है. इसके सेवन से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल घटता है और अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है. ये रक्तवाहिकाओं की सूजन को कम करने में भी लाभकारी माना जाता है. ऐसे में आंवले के मुरब्बे के सेवन से हार्ट से जुड़ी तमाम समस्याओं का रिस्क कम होता है।
2. गर्भावस्था में जरूर करे इसका उपयोग :
Pregnet
कहा जाता है कि अगर गर्भवती महिला रोजाना खाली पेट एक आंवले का मुरब्बा खाए तो ये उसके और उसके बच्चे दोनों के लिए काफी लाभकारी साबित होता है. इससे हड्डियां मजबूत होती हैं. बाल गिरनी की समस्या नियंत्रित होती है और आंखों की रोशनी बेहतर होती है. साथ ही शरीर में खून की कमी नहीं होती।
3. खून की कमी करता है दूर :
जिन लोगों के शरीर में खून की कमी है, उन्हें रोजाना एक आंवले का मुरब्बा जरूर खाना चाहिए. इसमें आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. इसे नियमित रूप से खाने से शरीर में खून की कमी दूर होती है और एनीमिया जैसी समस्या से बचाव होता है।
4. गैस एसिडिटी से दिलाए छुटकारा :
जिन लोगों को गैस और एसिडिटी या पाचन से जुड़ी किसी तरह की समस्या है, वे अगर रोजाना खाली पेट आंवला खाएं तो ये समस्या जड़ से समाप्त हो जाती है. इसके अलावा आंवला विटामिन ए, सी, ई से भरपूर होता है. ऐसे में इसे स्किन के लिए काफी अच्छा माना जाता है. ये रक्त शोधक होता है, साथ ही बढ़ती उम्र के असर को रोकता है।