Health Care Tips: एक्सपर्ट की राय के अनुसार जानिए पैरों की मसाज करने के क्या है हेल्थ बेनिफिट्स!

 
Per
मालिश करना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। इसे न केवल आयुर्वेद बल्कि डॉक्टर ने भी लाभकारी माना है। मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन सही बना रहता है। सिर की मालिश तो हम अक्सर करते है लेकिन क्या आप जानते हैं? पैरो की मालिश करने से कितने सारे हेल्थ बेनिफिट्स मिलते हैं। इस से मसल्स मजबूत होते हैं साथ ही शरीर की थकावट दूर होती है। मालिश करने से त्वचा की ड्राईनेस भी कम होती है। दादी-नानी अक्सर मालिश करने की सलाह देती हैं। मालिश से तनाव दूर होता है। साथ ही मानसिक सुकून मिलता है। तनाव दूर करने के लिए हफ्ते में कम से कम दो दिन पैरों की मालिश करनी चाहिए। अगर आप रोजाना पैरों की मालिश करते हैं, तो यह आपकी सेहत के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे की पैरों की मालिश करने से क्या - क्या फायदे मिलते है -
1. नींद समस्या होगी दूर :
Nind
रात को अच्छी नींद लेना हर किसी को पसंद होता है। लेकिन कुछ लोगों को समय पर नींद नहीं आती है। इस समस्या को अनिद्रा कहा जाता है। जब किसी इंसान को नींद नहीं आती है, तो इसका अर्थ है कि वह व्यक्ति अनिद्रा से परेशान है। अगर आप भी इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो आप रोजाना रात को तेल से पैरों की मालिश करें। इससे आपकी शरीर की थकान और तनाव दोनों ही दूर होगा और आपको अच्छी नींद आएगी। 
2. मांसपेशियों के दर्द से मिलेगी राहत :
दिनभर की थकान की वजह से अक्सर मांसपेशियों में दर्द हो जाता है। ऐसे में इस से राहत पाने के लिए आप रोजाना पैरों की मालिश कर सकते हैं। आपको मांसपेशियों के दर्द से राहत मिलेगी। साथ ही आपको आराम की अनुभूति होगी। पैरों की मालिश करने मसल्स एक्टिव हो जाते हैं। 
3. डिप्रेशन होता है दूर :
Sir dard
आजकल के मॉडर्न लाइफस्टाइल में हर इंसान किसी न किसी वजह से परेशान रहता है। एक समय बाद यह परेशानी तनाव में बदल जाती है। लंबे समय तक तनाव में रहने की वजह से डिप्रेशन होने की संभावना होती है। अगर आप भी तनाव में रहती हैं तो आपके लिए पैरों की मालिश लाभकारी है। मालिश से तनाव दूर होता है। साथ ही मानसिक सुकून मिलता है। तनाव दूर करने के लिए हफ्ते में कम से कम दो दिन पैरों की मालिश करनी चाहिए। अगर आप रोजाना पैरों की मालिश करते हैं, तो यह आपकी सेहत के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। 
4. एड़ियों के दर्द से राहत :
पैरों की मालिश के दौरान तलवों की भी मालिश की जाती है, जिससे एड़ियों के दर्द से राहत मिलता है। 40 साल के बाद अक्सर महिलाएं एड़ियों और पैरों के दर्द से परेशान रहती हैं। अगर आप भी एड़ियों के दर्द से परेशान हैं, तो पैरों की मालिश आपके लिए लाभकारी हो सकती है। रोजाना रात को सोते समय पैरों की मालिश करना चाहिए। इससे दर्द में आराम आएगा। मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है जिससे नसों को राहत मिलती है और एड़ियों का दर्द कम होता है। 
5. पीरियड्स के दर्द से दिलाए आराम :
पीरियड्स एक नेचुरल प्रोसेस है। इन 5 दिनों महिलाएं पैरों के दर्द से काफी परेशान रहती हैं। ऐसे में आप पैरों की मालिश कर पीरियड्स के दर्द से राहत प्राप्त कर सकती हैं। पैरों की मालिश करने से पीरियड्स के दौरान मूड स्विंग से भी राहत मिलती हैं। साथ ही थकान भी कम हो जाती हैं।