जानिए कौन हैं 27 वर्षीय सना रामचंद ? जो बनीं पाकिस्तान की पहली महिला हिंदू अफसर

 

जानिए कौन हैं 27 वर्षीय सना रामचंद ? जो बनीं पाकिस्तान की पहली महिला हिंदू अफसर

इस्लामाबाद : पाक के इतिहास में पहली बार कोई हिंदू लड़की यहां की सबसे कठिन परीक्षा में सफल हुई है. 27 साल की डॉ सना रामचंद गुलवानी ने मई में सेंट्रल सुपीरियर सर्विसेज (सीएसएस) प्रतियोगी परीक्षा पास की थी, लेकिन पूरे पांच महीने के बाद, उनकी नियुक्ति पिछले सोमवार, 20 सितंबर, 2021 को सील कर दी गई है।

पाक में इस परीक्षा को सबसे कठिन बताया जाता है। जिसके द्वारा प्रशासनिक सेवाओं में नियुक्तियाँ की जाती हैं। आप इसे भारत में सिविल सेवा परीक्षा की तरह भी बोल सकते हैं, जो संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाती है। परीक्षा पास करने के बाद डॉ सना ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा, 'वाहे गुरु जी का खालसा वही गुरु जी की फतेह।', मैंने सीएसएस 2020 परीक्षा को क्रैक किया।



मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक CSS की परीक्षा बेहद कठिन मानी जाती है. इस साल कुल 2% उम्मीदवारों ने सफलता हासिल की है। 27 वर्षीय डॉ. सना रामचंद गुलवानी ने पहले प्रयास में इसे क्रैक किया। आपको बता दें कि सना मूल रूप से शिकारपुर की रहने वाली हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, सना सिंध प्रांत की एक ग्रामीण सीट से परीक्षा में शामिल हुई थी। यह सीट पाकिस्तान प्रशासनिक सेवाओं के अंतर्गत आती है।