Viral Video : एक पिता को अपने बच्चे को समुद्र में फेंकते देख आप हैरान रह जाएंगे

 
g

अंकारा: तुर्की से इटली जा रहे प्रवासियों से भरी एक नाव में भोजन, पानी और पेट्रोल खत्म हो जाने से बत्तीस प्रवासियों की जान चली गई। बचाव से पहले उनकी हालत बिगड़ने के कारण तीन महिलाओं और तीन बच्चों सहित नाव पर सवार छह लोगों की जान चली गई। जब उन सभी के शव सड़ने लगे तो नाव पर सवार लोगों ने सभी लाशों को अपने कपड़ों में बांधकर समुद्र में फेंक दिया.



इस दिल दहला देने वाली घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें एक पिता अपने बेटे की लाश को समुद्र में फेंकता नजर आ रहा है. वीडियो देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं कि उस वक्त हालात कितने भयावह रहे होंगे. बच्चे को फेंकने वाला शख्स सीरिया का रहने वाला है, जो अपनी जिंदगी में बदलाव लाने के लिए हमेशा के लिए अपने परिवार के साथ अवैध रूप से इटली जा रहा था।

वीडियो में देखा जा सकता है कि यह पिता जब अपने बच्चे को नाव से फेंक रहा है तो वहां मौजूद लोग अल्लाह हू अकबर कह रहे हैं. ये लोग जब नाव में सवार होकर निकले होंगे तो उन्होंने कभी नहीं सोचा होगा कि यह सफर इतना कठिन होगा। 27 अगस्त को 32 प्रवासियों को लेकर नाव तुर्की के शहर अंताल्या से इटली के पॉज़ालो के लिए रवाना हुई। यात्रा बहुत लंबी थी, लेकिन नाव पर पर्याप्त सामान नहीं था। धीरे-धीरे भोजन, पानी और तेल खत्म होने लगा। जब सब कुछ खत्म हो गया, खासकर नाव पर सवार महिलाएं और बच्चे भूख-प्यास से तड़पने लगे। जब कुछ समझ नहीं आया तो सभी लोगों ने जीवित रहने के लिए समुद्र के खारे पानी को टूथपेस्ट में मिलाकर खा लिया और अपनी भूख बुझाई।


उधर, समुद्र के बीच में लोगों के फंसे होने की खबर मिलते ही इटली से पानी का जहाज उन्हें बचाने के लिए निकला और सभी लोगों को जिंदा बचा लिया. संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी (यूएनएचसीआर) के अनुसार, नाव पर 30 से अधिक लोग सवार थे, जिनमें से छह भूख और प्यास के कारण बच नहीं सके। वहीं, बचाए गए लोगों की हालत भी बेहद नाजुक है।