28 गानों ने बनाया कुमार शानू को सुपरस्टार, दी इंडस्ट्री छोड़ने की ये चौंकाने वाली वजह

 
bb

90 के दशक के पॉपुलर सिंगर कुमार शानू 65 साल के हो गए हैं. आज वह इंडस्ट्री के सबसे मशहूर और लोकप्रिय सिंगर हैं। लंबे समय तक संगीत उद्योग से दूर रहे कुमार शानू ने 2015 की रोमांटिक कॉमेडी फिल्म 'दम लगा के हईशा' में कुछ गानों को अपनी आवाज दी और उसके बाद फिल्म उद्योग में फिर से सक्रिय हो गए। आपको बता दें कि कुमार शानू के नाम एक दिन में 28 गाने गाने का रिकॉर्ड गिनीज बुक में दर्ज है। जी हां, कुमार शानू ने म्यूजिक इंडस्ट्री से लंबे समय तक दूर रहने के बारे में भी बताया है।

दरअसल, कुमार शानू ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'मैं अश्लीलता से जुड़े गाने नहीं गा सकता.' दरअसल, उनके मुताबिक 'आज के गाने अश्लीलता से भरे हुए हैं.' ऐसे में उन्होंने कहा था- 'गाने का कोई मतलब नहीं होता। चार बोतल वोडका, काम मेरा रोज का... जैसे गाने बज रहे हैं। मैं खुद ऐसे गाने गाकर म्यूजिक इंडस्ट्री को खराब नहीं करना चाहता। आज के समय में कुछ निर्माता जैसे चाहते हैं गाने बनाते हैं, न कि दर्शक जो चाहते हैं।' उनकी पर्सनल लाइफ की बात करें तो कुमार शानू ने दो शादियां की हैं।


दरअसल 80 के दशक में उन्होंने रीता भट्टाचार्य से शादी की थी, दोनों एक दूसरे को कोलकाता से जानते थे। शादी के बाद रीता ने बेटे जान को जन्म दिया, लेकिन इसी बीच एक्ट्रेस मीनाक्षी शेषाद्रि और कुमार शानू के अफेयर की खबरें रीता तक पहुंच गईं और 1994 में दोनों का तलाक हो गया। उसके बाद रीता को बेटे की कस्टडी मिली। साल 1994 में कुमार शानू ने सलोनी से दूसरी शादी की और शानू की दूसरी पत्नी सलोनी से दो बेटियां हैं। आपको बता दें कि कुमार शानू ने अपने करियर की शुरुआत बांग्लादेशी फिल्म तीन कन्या से की थी। हालांकि शानू को हिंदी फिल्मों में लाने का श्रेय जगजीत सिंह को ही जाता है। कहा जाता है कि उन्होंने कुमार शानू को फिल्म 'आंधियां' में एक गाना गाने के लिए ऑफर किया था।

उसके बाद उन्होंने ऐसे गाने गाए कि वे लोकप्रिय हो गए। सानू करीब 20 हजार गाने गा चुके हैं। उन्होंने कहा 'दिल का आलम...' (फिल्म 'आशिकी', 1990), 'दिल का रिश्ता...' (फिल्म 'दिल का रिश्ता', 2003), 'राजा को रानी से...' (फिल्म' अकेले हम अकेले तुम', 1995), 'परदेसी परदेसी...' (फिल्म 'राजा हिंदुस्तानी', 1996) ने कई बेहतरीन गाने गाए हैं। इसके अलावा सानू ने करीब 75 फिल्मों में म्यूजिक डायरेक्टर जोड़ी नदीम-श्रवण के लिए गाने गाए हैं। इसके साथ ही उन्होंने अनु मलिक के लिए 60 फिल्मों में, जतिन-ललित के लिए 30 फिल्मों और राजेश रोशन के लिए 25 फिल्मों में गाया है।