Pitru Paksha 2022: पितृ पक्ष में अगर आपको सपने में दिखते है पूर्वज तो...

 
b

पितृ पक्ष 10 सितंबर से शुरू हो रहा है, जो 25 सितंबर तक चलेगा। 25 सितंबर को सर्व पितृ अमावस्या भी है। 15 दिनों के दौरान पूर्वजों की आत्मा की शांति और उनका आशीर्वाद पाने के लिए पिंडदान, श्राद्ध और तर्पण किया जाता है। मान्यता है कि इन 15 दिनों में पितृ धरती लोक पर अपने परिजनों को देखने के लिए आते हैं। माना जाता है कि पितृ सपनों में आकर या अन्य तरीकों से कुछ संकेत देते हैं। ऐसे में सपने में पूर्वजों का आना कोई खास संदेश हो सकता है। जिनका मतलब समझकर उपाय करना चाहिए।

सपने में पितृ दिखने का मतलब

1. अगर पितृ पक्ष से पहले सपने में पितर दिखाई देते है। इसका मतलब है कि उनकी कोई इच्छा अधूरी है। वे सपने के जरिए आपको संकेत दे रहे हैं। ऐसे में उनकी आत्मा की शांति के लिए पितृ पक्ष के दौरान श्राद्ध, तर्पण और पिंडदान करें। साथ ही ब्रह्माणों को भोजन कराएं।

2. अगर सपने में पितर खुश दिखें तो इसका मतलब है कि वे आपसे प्रसन्न हैं। उन्होंने आपके द्वारा किए गए अनुष्ठानों का स्वीकार किया है। ऐसा सपना जीवन में सुख बढ़ाता है।

3. सपने में पूर्वज आशीर्वाद देते हुए दिखते है। इसका मतलब है कि आपकी बड़ी तरक्की होने वाली है।

4. यदि पूर्वज शांत मुद्रा में दिखें तो वे आपसे संतुष्ट हैं। पूर्वजों के आशीर्वाद से जल्द ही शुभ समाचार मिलेगा।

5. अगर सपने में पितरों को रोते हुए देखें तो सावधान हो जाएं। यह अशुभ संकेत है। ऐसे में पूर्वज को प्रसन्न करने के लिए श्राद्ध करें।