Ganesh Chaturthi 2022: इस गणेश चतुर्थी न करें चाँद के दर्शन, भगवान गणेश हो जाएंगे नाराज

 
h

हिंदू मान्यताओं के अनुसार, हमारे आसपास न जानें ऐसी कितनी चीजें मौजूद हैं, जिन्हें देखने या छूने से व्यक्ति को नकारात्मक या सकारात्मक प्रभाव पड़ता है. उन्हीं चीजों में से एक है गणेश चतुर्थी का चांद देखना। यदि गणेश चतुर्थी के दिन चंद्रमा के दर्शन किए जाएं तो ऐसा करने से गणेश जी नाराज हो जाते हैं।  इसके पीछे एक कहानी प्रचलित है। ऐसे में व्यक्ति को इस कहानी के बारे में पता होना चाहिए। तो आइये जानते हैं गणेश चतुर्थी के दिन चंद्रमा के दर्शन क्यों नहीं करने चाहिए।  

क्यों नहीं करते चांद के दर्शन
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, एक बार गणेश जी के लंबोदर और गजमुख को देख कर चांद को हंसी आ गई. चांद को हंसता देखकर गणेश जी को बहुत गुस्सा आया और वह नाराज हो गए। उन्होंने चांद से कहा कि तुम अपने रूप का बहुत अहंकार करते हो इसलिए अब तुम्हारा क्षय हो जाएगा. आज के दिन यानी गणेश चतुर्थी या गणेश चौथ के दिन तुम्हें देखेगा उसे कलंक लगेगा. गणेश जी की श्राप से चंद्रमा दुखी हो गए और वह छिप कर बैठ गए। 

चंद्रमा की ऐसी स्थिति को देखकर देवताओं ने चंद्रमा को सलाह दी कि आप मोदक और पकवानों से गणेश भगवान की पूजा करें. ऐसा करने से आप गणेश जी के श्राप से मुक्त हो जाएंगे। तब चंद्रमा ने गणेश जी की पूजा कर उन्हें प्रसन्न किया। गणेश जी ने प्रसन्न होकर चंद्रमा से कहा कि आप पूरे तरीके से समाप्त नहीं होगा। ऐसे में किसी ने गणेश चतुर्थी के दिन चांद देखा तो उसे भगवान गणेश के प्रकोप का सामना करना पड़ेगा।