इस मंदिर के द्वार को कहा जाता है 'नरक का दरवाजा', अंदर जाने वाला कभी नहीं आया लौटकर

Wednesday, 05 Dec 2018 10:03:59 AM
इस मंदिर के द्वार को कहा जाता है 'नरक का दरवाजा', अंदर जाने वाला कभी नहीं आया लौटकर

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। आज तक आपने कई मंदिर और उनसे जुड़े रहस्यों के बारे में सुना होगा लेकिन आज हम आपको ऐसे मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जिसके संपर्क में आने से इंसान ही नहीं बल्कि पशु पक्षी और जानवरों की भी मौत हो रही है। लगातार हो रही मौत की वजह से लोगों ने इस मंदिर का नाम 'नरक का दरवाजा' मानने लगे है। कहा जाता है कि जो भी इस मंदिर के अंदर जाता है वह कभी भी लौटकर वापस नहीं आ पाया। 


भारत की इन जगहों पर है आत्माओं का बसेरा, मशहूर है इनकी कहानियां

यह मंदिर  दक्षिणी तुर्की के हीरापोलिस शहर में स्थित है। अब इस प्राचीन मंदिर को नरक का दरवाजा नाम से ही बुलाया जाता है। लेकिन वैज्ञानिकों ने यहां हो रही मौते की पीछे की वजह को खोज निकालने का दावा किया गया है। उनका मानना है कि यहां पर काफी अधिक मात्रा में कार्बनडाई आक्साइड गैस है। लेकिन वहीं यहां के स्थानीय लोगों का मानना है कि लोगों की मौत यूनानी देवता के जहरीले सांप की वजह से हो रही है। कहा जाता है कि ग्रीक,रोमन काल के समय में भी इस मंदिर के आस पास जाने वाले लोगों का सिर कलम कर दिया जाता था इस वजह से लोगों ने इस मंदिर के आस पास जाना ही छोड़ दिया था।

आखिर कौन थे लाफिंग बुद्धा, जाने लाफिंग बुद्धा से जुड़ी कुछ रोचक बातें

वहीं अब वैज्ञानिक इस मंदिर की गुत्थी को सुलझाने का दावा कर रहे है। उनका कहना है कि ऐसा हो सकता है कि ये मंदिर ऐसे स्थान पर स्थित है जहां के जमीन से जहरीले गैसे निकलती हो और इसी वजह से इस मंदिर के संपर्क में आने से लोगों और पशु पक्षी की मौत हो रही है। वैज्ञानिको के अनुसार इस जगह पर कार्बनडाई आक्साइड गैस 91 प्रतिशत मौजूद है जिस वजह से यहां पर लोगों की मौत हो रही है।

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures