100 साल से जमीन के नीचे रह रहे है लोग, देखकर नहीं होगा यकीन

Sunday, 04 Nov 2018 04:12:39 PM
100 साल से जमीन के नीचे रह रहे है लोग, देखकर नहीं होगा यकीन

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। आपने लोगो को जमीन, पहाड़ और पेड़ो पर रहते हुए लोग जरूर देखे होंगे लेकिन दुनिया में एक जगह ऐसी भी जहां के लोग जमीन के नीचे रहते है।  जी हाँ, यह सच है। जानकारी में बता दें,  साउथ ऑस्ट्रेलिया के सिम्पसन रेगिस्तान के कूबर पेडी इलाके में लोग जमीन के नीचे रहते है। यहां करीब 100 साल  से लोग रह गए है और खास बात यह भी है कि जमीन के नीचे ही रेस्तरां- चर्च भी है। 


दिखने आपको बिलकुल घर जैसा लगेगा बस छत की जगह ऊपर जमीन है। न्यूयॉर्क टाइम्स की खबर के अनुसार, फोटोग्राफर तमारा मेरिनो और उनके पार्टनर की नजर इस जगह पर गई, यहां से दोनों गुजर रहे थे। वहां वो रुके और लोगो से बात की। बातचीत में उन्होंने बताया कि, 'हमारे और यहां रह रहे लोगों में कोई फर्क नहीं है। वे कोई गुफा में रह रहे आदिमानव नहीं है वो अभी हमारी तरफ सामान्य इंसान हैं, बस उन्होंने जीने के लिए अलग रास्ता चुना है।'

तमारा मेरिनो ने बताया, कूबर पेडी में साल 1915 में पहली बार दुनियाभर से लोगों ने साउथ ऑस्ट्रेलिया के इस इलाके में आना शुरू किया था। ये लोग कीमती पत्थर ओपल (दूधिया) की खुदाई करना चाहते थे ताकि उन्हें अच्छी कीमत में बेचकर जिंदगी गुजार सकें। यहां आने के बाद लोग अपना परिवार भी साथ ले आये और उनके बच्चे यहीं पैदा हो गए। बस यही उन्होंने अपना घर बना लिया। बच्चे खेलने कूदने के लिए जमीन के ऊपर चले जाते है और यहां कोई खतरा नहीं भी नहीं है। उन्होंने जानकारी में बताया, यहां करीब 45 देशों के लोग रह रहे हैं।

उन्होंने आगे बताया, जमीन के निचे लोगों ने किचन, हॉल से लेकर डाइनिंग रूम तक सब बना रखा है। घरों में बर्तन, डाइनिंग टेबल, टीवी और साज-सज्जा हमारे आम घरों जैसी ही है। यही नहीं जमीन के नीचे उन्होंने सर्बियाई ऑर्थोडॉक्स चर्च और रेस्तरां भी बनाया है। आपको जानकारी में बता दें, यहां रह गए लोगो का जीवन बस खुदाई से मिलने वाले ओपल पर निर्भर है। ये लोग ओपल बेचकर अपना जीवन चलते है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures