बस एक क्लिक में पढ़ें देश, विदेश, सिनेमा और स्पोर्ट्स से जुड़ी 5 बड़ी खबरें

Friday, 14 Sep 2018 03:45:13 PM
बस एक क्लिक में पढ़ें देश, विदेश, सिनेमा और स्पोर्ट्स से जुड़ी 5 बड़ी खबरें

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

हिंदी दिवस 2018: इसलिए 14 सितंबर को मनाया जाता है राष्ट्रभाषा का दिन

हिंदी दिवस 2018: इसलिए 14 सितंबर को मनाया जाता है राष्ट्रभाषा का दिन


नई दिल्ली। देश में अंग्रेजी भाषा के बढ़ते चलन और हिंदी को खतरे में देखते हुए हर साल 14 सितंबर के दिन को देशभर में हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। आजादी मिलने के दो साल बाद 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा में एक मत से हिंदी को राजभाषा घोषित किया गया था और इसके बाद से हर साल 14 सितंबर को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। आज के समय में हिंदी दुनिया भर में पसंद और पढ़ाई जाने लगी है। वहीं आज स्मार्टफोन में हिंदी भाषा का ऑप्शन दिया जाने लगा है। यहीं नहीं हिंदी भाषा के लिए आज कई तरह के ऐप्स भी आ रहे है। तो आइए जानते हैं हिंदी दिवस कब से मनाया जाने लगा। 

- हिंदी को सबसे पहले 14 सितंबर, 1949 के दिन राष्ट्रभाषा का दर्जा मिला था । जिसके बाद हर साल इस दिन को हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है। देश जब साल 1947 में अंग्रेजों की हुकूमत से आजाद हुआ था तो देश के सामने भाषा को लेकर सबसे बड़ा एक सवाल खड़ा था । सवाल यह था कि भारत की राष्ट्रभाषा कौन सी होगी । 

- इस सवाल ने महान विशेषज्ञो को हैरानी में डाल दिया। इस पर काफी विचार करने के बाद हिंदी और अंग्रेजी को नए राष्ट्र की भाषा के रूप में चुना गया । संविधान सभा ने देवनागरी लिपी में लिखी हिंदी को राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के तौर पर स्वीकार किया ।

- हिंदी भाषा की सबसे खास बात यह है कि इसमें जिस शब्द को जिस प्रकार से उच्चारित किया जाता है , उसे लिपि में लिखा भी उसी प्रकार जाता है। आपको बता दें देश के 77 फीसदी लोग हिंदी लिखते, पढ़ते, बोलते और समझते हैं । कई सरकारी कामों में हिंदी का ही इस्तेमाल किया जाता है । 

अमेरिका: बोस्टन में गैस पाइप लाइन में एक के बाद एक कई धमाके, तीन शहर खाली

अमेरिका: बोस्टन में गैस पाइप लाइन में एक के बाद एक कई धमाके, तीन शहर खाली

न्यूयॉर्क। अमेरिका गुरुवार को अचानक दहल उठा और भारी संख्या में घरों से बाहर निकल आये। अमेरिका के उत्तरी बोस्टन शहर में बहुत भारी संख्या में लोगों को घरों से बाहर निकाला गया। क्योंकि बोस्टन शहर में गैस पाइप लाइन में दर्जनों धमाके हो गए थे। जिसकी वजह से लगभग 6 लोग घायल हो गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि मैसाचुसेट्स में बोस्टन से लगभग 43 किलोमीटर दूर तीन कस्बों में कम से कम 70 घरों और इमारतों में सिलसिलेवार तरीके से संदिग्ध गैस धमाके हुए हैं।

पुलिस ने जानकारी में बताया, 'जहां से भी गैस की गंध आ रही है वहां के आसपास के लोगों को हटाया जा रहा है। ये घमाके कैसे हुए इसके बारे में अभी कुछ भी कहना कयासबाजी होगी। जब स्थिति सामान्य होगी तब संयुक्त जांच की जाएगी।' आगे पुलिस ने बताया कि अथॉरिटिज की तरफ से हजारों मीटर तक बिजली लाइन बंद कर दी गई है और कोलंबिया के तीन शहर के लोगों को अपनी जरुरी उपयोगी वस्तुओं के साथ खाली करने को कहा गया है। गुरुवार को कंपनी की तरफ से यह कहा गया था- 'वे पूरे राज्यभर में नेचुरल गैस लाइन को अपग्रेड करने जा रही है।'

वहीं लॉरेंस अस्पताल के मेयर ने साउथ शहर में रहने वाले सभी निवासियों से अनुरोध किया है कि वह अपने घर छोड़कर चले जाएं क्योंकि पावर शटडाउन होने वाला है। लॉरेंस जनरल अस्पताल में गैस विस्फोट में घायल हुए 6 मरीजों का इलाज चल रहा है। जिनमें से दो लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है। घायलों की संख्या में इजाफा हो सकता है। दमकलकर्मी आग  पर काबू पाने की पूरी कोशिश कर रहे है और तीन शहरों में दमकल लगातार भेजी जा रही है। 

​आ गया रोबोट 2.0 का टीजर, यूजर्स ने कह दी ये बड़ी बात

​आ गया रोबोट 2.0 का टीजर, यूजर्स ने कह दी ये बड़ी बात

इंटरनेट डेस्क। सुपरस्टार रजनीकांत और अक्षय कुमार स्टारर फिल्म रोबोट 2.0 आने से पहले ही लोगों के बीच में चर्चा का विषय बनी हुई है। हाल ही में गणेश चतुर्थी के मौके पर फिल्म रोबोट 2.0 का टीजर रिलीज किया गया। इस फिल्म में रजनीकांत के साथ अक्षय कुमार भी एक अलग भूमिका में नजर आ रहे है। टीजर रिलीज होने के साथ ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और इसे दर्शकों के द्धारा काफी पसंद किया जा रहा है। आपको जानकर हैरानी होगी कि रोबोट 2.0 का टीजर ​रिलीज होने के साथ ही इस  टीजर को सिर्फ 24 घंटे के अंदर 3 करोड़ 50 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका हैं। 

फिल्म को लेकर लोगों की बेसब्री साफ तौर पर देखी जा सकती है। वहीं इस फिल्म के टीजर को गणेश चतुर्थी के मौके पर गुरुवार को सुबह 9 बजे रिलीज किया गया। जिसका उनके फैंस काफी बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। वहीं आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस फिल्म ने अपना बजट बडा कर बाहूबली को चेलेंज दिया था। यह भारत की अब तक की सबसे मंहगी फिल्म है जिससे बनाने में करीबन 545 करोड लगे है। इस फिल्म में सुपरस्टार रजनीकांत और अक्षय कुमार मुख्य भूमिका में है। अक्षय पहली बार इस फिल्म में एक नेगेटिव रोल प्ले करे वाले है। फिल्म के फैंस के द्धारा अक्षय के किरदार को काफी पसंद किया जा रहा है। यह फिल्म  29 नवंबर को बॉक्स ऑफिस पर रिलीज होने जा रही है। फिल्म के टीजर में दिखाया गया है कि   

आसमान में पक्षियों का झुंड मंडरा रहा है और फिर अचानक सभी लोगों के मोबाइल फोन गायब हो जाते हैं। तब रजनीकांत और बाकी टीम कहती है कि इस मुसीबत से लड़ने के लिए सुपर पॉवर की जरूरत है और चिट्टी रोबोट को फिर से बनाया जाता है। टीजर को देख कर लोगों की बेताबी बढ गई है और अब फैंस इस फिल्म की रिलीज होने का इंतजार कर रहे है। 

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक बार फिर उछाल

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में एक बार फिर उछाल

इंटरनेट डेस्क। भारत में हमेशा में पेट्रोल और डीजल के दामों को लेकर हमेशा काफी चर्चा बनती रहती है। और सरकार ने एक बार फिर पेट्रोल और डीजल दाम बढ़ाकर देश की जनता को बुरी खबर दी हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देश के कई शहरों में पेट्रोल और डीजल के दाम में उच्चतम स्तर पर पहुँच गये। बताया जा रहा है कि पेट्रोल के दाम भी इसऐतिहासिक उच्चतम स्तर के करीब पहुँच चुके हैं। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन से प्राप्त जानकारी के अनुसार, चार बड़े महानगरों दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल की कीमत 27 पैसे से 30 पैसे और डीजल की 22 पैसे से 24 पैसे प्रति लीटर तक बढ़ गए।

रिपोर्ट अनुसार बताया जा रहा है कि देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने दाम बढ़ने के जानकारी दी साथ ही कहा जा रहा है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 28 पैसे बढकर 81.28 रुपये प्रति लीटर पर पहुँच गया। डीजल 73.30 रुपये प्रति लीटर बिका। मुंबई में पेट्रोल के दाम 88.67 रुपये और डीजल के  77.82 रुपये प्रति लीटर हो गया। साथ ही बताया जा रहा है कि दिल्ली, मुंबई के साथ ही कोलकाता और चेन्नई में भी डीजल की कीमत रिकॉर्ड स्तर पर रही।

साथ ही बताया जा रहा है कि इस समय पेट्रोल और डीजल की बढ़ रही कीमतों से देश की जनता काफी परेशान नजर आ रही है। साथ पेट्रोल और डीजल की बढ़ रही कीमतों की वजह से सरकार को इसका विरोध देखने को मिला है। कई जगह इसका विरोध किया गया है ।  कई दिनों से घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल की कीमतें बढ़ रही हैं ।

डेढ़ साल बाद किया खुद महेंद्र सिंह धोनी ने किया खुलासा, इस बड़ी वजह से छोड़ी थी टीम की कप्तानी

डेढ़ साल बाद किया खुद महेंद्र सिंह धोनी ने किया खुलासा, इस बड़ी वजह से छोड़ी थी टीम की कप्तानी

स्पोटर्स डेस्क। महेंद्र सिंह धोनी का नाम हमेशा ही भारत के सफल बल्लेबाजों में रहेगा और इसी के साथ वो एक सफल कप्तान भी रह चुके है। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप, 2001 में वर्ल्ड कप, 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी और एशिया कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में जीत हासिल की और साथ ही कई रिकॉर्ड भी बनाए।  दिसम्बर 2014 में ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान धोनी ने टेस्ट से रिटायर हो गए और जनवरी 2017 में धोनी ने अचानक वनडे और टी-20 से टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला कर किया। 

2017 में धोनी ने अचानक कप्तानी छोड़ने के फैसले से सभी हैरान हो गए थे। लेकिन उस समय धोनी ने कप्तानी छोड़ने के फैसला कोई खास कारण नहीं बताया था। लेकिन अब डेढ़ साल बाद धोनी ने टीम की कप्तानी छोड़ने के कारण का खुलासा किया है। 

अभी हाल ही में एक मोटिवेशनल कार्यक्रम के दौरान भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि 'मैंने उस समय टीम की कप्तानी इसलिए छोड़ी ताकि 2019 में होने वाले वर्ल्ड कप से पहले विराट कोहली को टीम तैयार करने का समय मिल जाए और वो अच्छे से टीम खड़ी कर सके। उन्होंने यह भी कहा कि बिना समय दिए नए कप्तान के लिए वर्ल्ड कप के लिए टीम बनाना आसान काम नहीं होता है। अभी हाल ही में इंडिया और इंडलैण्ड के बीच पांच मैचों की सीरीज खेली गयी थी जिसमे से भारत ने केवल एक ही मैच जीता और सीरीज 4-1 से हार गयी। हालांकि पांच मैचों की सीरीज में दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों ने कई रिकॉर्ड बनाये और तोड़े। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures