इलाहबाद और फैज़ाबाद के बाद नाम बदलने में अब अहमदाबाद की बारी, ये होगा नया नाम

Friday, 09 Nov 2018 10:02:21 AM
इलाहबाद और फैज़ाबाद के बाद नाम बदलने में अब अहमदाबाद की बारी, ये होगा नया नाम

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

इंटरनेट डेस्क। दिवाली से ठीक पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैज़ाबाद शहर का नाम बदलकर अयोध्या रखने की घोषणा की थी। योगी इस से पहले भी राज्य के एक दूसरे शहर इलाहबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर चुके है। लेकिन मुख्यमंत्री योगी द्वारा फैज़ाबाद का नाम बदलकर अयोध्या रखने की घोषणा के बाद गुजरात सरकार ने कहा ने है कि अगर कोई कानूनी बाधा नहीं है तो अहमदाबाद का नाम कर्णावती किया जा सकता है।


गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने गांधीनगर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि अगर इसमें कोई कानूनी बाधानहीं है और उन्हें आवश्यक समर्थन प्राप्त होता है तो भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार अहमदाबाद का नाम बदलना चाहती है। 

पटेल ने कहा कि लोगों को अभी भी यह महसूस हो रहा है कि अहमदाबाद का नाम कर्णावती से बदला जाना चाहिए। अगर हमें कानूनी बाधाओं को दूर करने के लिए जरूरी समर्थन मिलता है, तो हम शहर का नाम बदलने के लिए तैयार है। गौरतलब है कि अहमदाबाद भारत का 'विश्व धरोहर' टैग वाला एकमात्र शहर है।

ऐतिहासिक रूप से, 11 वीं शताब्दी के बाद अहमदाबाद के आसपास का क्षेत्र बसाया गया था, जब इसे अश्वल के नाम से जाना जाता था। अनिलवाड़ा (आधुनिक पाटन) के चालुक्य शासक कर्ण ने अश्वल के भील राजा को युद्ध में हराकर साबरमती नदी के तट पर कर्णावती नामक एक शहर की स्थापना की थी। इसके बाद 1411 में सुल्तान अहमद शाह ने कर्णावती के पास एक नए शहर की नींव रखी थी और इसका नाम अहमदाबाद रखा था।

बता दें कि दिवाली की पूर्व संध्या पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैज़ाबाद शहर का नाम बदलकर अयोध्या रखने की घोषणा की थी और कहा था कि अयोध्या हमारी आन, बान और शान का प्रतीक है। उनकी सरकार फैज़ाबाद से पहले राज्य के एक और शहर इलाहबाद का नाम भी बदल चुकी है। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures