loading...

करीब 1000 साल पहले मर चुकी महिला के मिले अवशेष, वैज्ञानिकों ने बनाया उसका 'असली चेहरा'...

Tuesday, 05 Nov 2019 04:49:22 PM

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

loading...

इंटरनेट डेस्क। आज के इस आधुनिक दौर में विज्ञान और तकनीक ने बहुत तरक्की की हैं। जो इंसान की सोच से भी परे हैं। आज हमारे सामने एक ऐसा ही मामला आया है, जिसके बारे में इंसानी दिमाग कल्पना भी नहीं कर सकता। दरअसल, वैज्ञानिकों ने 1000 साल पहले मरी महिला के अवशेषों से उसका 'असली चेहरा' तैयार कर लिया है। ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने वाइकिंग महिला के अवशेषों से उसका चेहरा तैयार किया है। वैज्ञानिकों को इस महिला वाइकिंग योद्धा के अवशेष नॉर्वे के सोलोर में मौजूद वाइकिंग कब्रिस्तान में मिले हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, कई साल पहले वाइकिंग हुआ करते थे। उनका साम्राज्य मुख्य रूप से लूटपाट के सहारे चलता चलता था। वाइकिंग समुदाय का ताल्लुक नार्वे और आस-पास के क्षेत्र से था, लेकिन लूटपाट के लिए वे लंबे समय तक अपने घरों से दूर रहते थे। वाइकिंग समुदाय में महिला और पुरुष दोनों ही लूटपाट करते थे। ऐसा कहा जा रहा है कि महिला 1,000 साल पहले बिल्कुल वैसी ही दिखती होगी जैसा कि वैज्ञानिकों ने उसका चेहरा बनाया है।

मौत के बाद भी मानते हैं जिंदा.. मेकअप करके तैयार करते है फिर खिलाते है खाना, देखे : Photos

महिला वाइकिंग योद्धा के अवशेषों को ओस्लो के म्यूजियम ऑफ कल्चरल हिस्ट्री में संजो कर रखा जाएगा। वैज्ञानिकों को वाइकिंग महिला की कब्र से कंकाल के अलावा तीर, तलवार, कुल्हाड़ी और भाले के अलावा और भी कई घातक हथियार भी मिले हैं, जिनका इस्तेमाल वाइकिंग लूट के दौरान करते थे।वैज्ञानिकों को महिला की खोपड़ी पर एक गहरे घाव का निशान भी मिला है, जो उसके माथे पर है। पुरातत्ववेत्ता एला अल-शामही ने बताया कि कब्रिस्तान से मिले अवशेषों को शुरू से ही किसी महिला की मान लिया गया था, लेकिन कब्र को किसी योद्धा की कब्र नहीं माना जा रहा था क्योंकि वह एक महिला की कब्र थी।

भूत से प्यार करती है ये 'लड़की'.. कर चुकी है कई बार सेक्स, अब बच्चा पैदा करने की ख्वाहिश !

अल-शामही के अनुसार, यह बात साफ नहीं है कि माथे पर गहरी चोट के कारण ही महिला की मौत हुई थी या नहीं। किसी वाइकिंग महिला का लड़ाई में चोट के मिलने का यह पहला सबूत है। अल-शामही ने कका कि वो इसे लेकर काफी उत्साहित हैं, क्योंकि यह एक ऐसा चेहरा है, जिसे 1,000 साल से किसी ने नहीं देखा है और जो अचानक से सबके सामने आ गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला के चेहरे को वैज्ञानिकों ने फेशियल रिकग्नीशन टेक्नोलॉजी (चेहरा पहचानने वाली तकनीक) की मदद से बनाया है। चेहरे को शरीर की कृतिम मांसपेशियों और त्वचा से ही बनाया गया है। चेहरे को बनाने की प्रक्रिया को एक डॉक्यूमेंट्री के जरिए नेशनल जियोग्राफिक पर तीन दिसंबर को प्रदर्शित किया जाएगा।

पति को नहीं मिल रहे थे सबूत, तो रात में जगकर पत्नी को रंगे हाथ पकड़ा और फिर...
उम्र 10 साल, वजन 192 Kg... मोटा इतना की दूर-दूर से देखने आते है लोग, आप भी देखे : Photos
50 अंडे खाने की लगाई शर्त, 41 अंडे तो खा गया लेकिन 42वां अंडा खाते ही....
टैटू की दीवानी लड़की ने बनवाया आंखों में नीले रंग का टैटू, हो गई तीन हफ्तों के लिए 'अंधी' लेकिन बाद में....

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


loading...